कोरोना रिसर्च: शरीर में विटामिन डी की कमी से मौत का खतरा ज्यादा

punjabkesari.in Monday, Sep 28, 2020 - 09:58 AM (IST)

कोरोना वायरस से बचने के लिए जहां लोगों को मास्क पहनने और सैनेंटाइजर का इस्तेमाल करने की सलाह दी जा रही हैं वहीं लोगों को डाइट में विटामिन डी लेना भी जरूरी माना जा रहा है। हाल ही में हुए शोध का कहना है कि डाइट में विटामिन-D की उचित मात्रा लेने से कोरोना संक्रमण से मौत का खतरा 50% तक टल सकता है।

क्यों जरूरी है विटामिन डी

अमेरिका की बोस्टन यूनिवर्सिटी ने हाल ही में एक शोध किया था, जिसमें सामने आया कि विटामिन डी लेने वाले लोगों में कोरोना से मौत का खतरा 50% कम रहता है। विटमिन-डी इम्यूनिटी को बूस्ट करता है और शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स को बढ़ाकर साइटोकाइन (Cytokines) सेल्स को बढ़ने से रोकता है। कोरोना वायरस मरीज के शरीर में साइटोकाइन सेल्स बनाकर फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है। खतरनाक रेस्पेरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम की वजह से ही कोरोना मरीज की मौत हो जाती है।

PunjabKesari

विटामिन डी से नहीं होंगे बीमार

वैज्ञानिकों का कहना है कि डाइट में विटामिन डी लेने से व्यक्ति गंभीर रूप से भी बीमार नहीं पड़ते। इससे गंभीर रूप से बीमार होने का खतरा भी 15% तक कम होता है। यही नहीं, इससे मरीजों को वेटिंलेटर पर रखने की जरूरत भी 46% कम होती है। इसके अलावा ली स्मिथ, एंग्लिया रस्किन यूनिवर्सिटी के अनुसार के मुताबिक, विटामिन डी सांस से जुड़े इंफेक्शन का खतरा भी कम करता है। वहीं, इससे मरीज मरीज संक्रमण से भी जल्दी उभर जाते हैं।

इन लोगों में अधिक होती है विटामिन डी की कमी

अमेरिका कोरोना संक्रमण के मामले में सबसे आगे है। शोध के मुताबिक, अमेरिका में करीब 42% लोगों में विटामिन डी की कमी थी वहीं बुजुर्गों में भी विटामिन डी की कमी होने के कारण वो जल्दी इसकी चपेट में आ जाते हैं और उनमें मौत की संभावना भी युवाओं से ज्यादा होती है।

बहुत जरूरी है धूप

धूप विटामिन डी का प्रमुख स्त्रोत है। इसके लिए सुबह सूर्य की गुनगुनी धूप में कम से कम 30-45 मिनट बिताएं। विटामिन डी की कमी पूरी करने के साथ सुबह की गुनगुनी धूप ब्रेन, आंखें व स्किन के लिए भी फायदेमंद होती है।

PunjabKesari

विटमिन-डी टैबलेट्स

आप सप्लीमेंट्स के जरिए भी इसका कमी को पूरा कर सकते हैं। मगर, सप्लीमेंट्स लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। यह टैबलेट हफ्ते में 1 बार और लगातार 2 महीने तक लेनी होती है। हालांकि डॉक्टर विटामिन डी टैबलेट्स सिर्फ उन्हीं को लेने की सलाह देते हैं, जिन्हें आहार से कोई फर्क ना पड़े।

विटामिन डी से भरपूर आहार

ज्यादातर लोगों को लगता है कि सिर्फ धूप से ही  विटामिन डी लिया जा सकता है जबकि आप आहार के जरिए भी इसकी कमी पूरी कर सकते हैं। अगर आप शाकाहारी हैं तो आप दूध, सोया मिल्क, गाजर,  टोफू, संतरा, मशरूम, दही, भिड़ी, पालक, इंस्टेंट ओट्स, पनीर, सोयाबीन आदि ले सकते हैं। वहीं नॉन-वेजिटेरियन लोग साल्मन, बीफ लिवर, अंडे और फोर्टिफाइड मिल्क से विटमिन-डी की कमी पूरी कर सकते हैं।

PunjabKesari

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में करीब 9.93 लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गवां चुके हैं। कोरोना को रोकने के लिए की जा रही तमाम कोशिशों के बाद भी संक्रमण का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। WHO ने चेतावनी दी है कि अगर अभी कोरोना वायरस को कंट्रोल ना किया गया है तो इससे होने वाली मौतों का आंकड़ा 20 लाख के पार भी जा सकता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Related News

Recommended News

static