रणबीर- आलिया की तरह 13 अप्रैल से नीतू और ऋषि कपूर का भी है बेहद खास कनेक्शन

punjabkesari.in Wednesday, Apr 13, 2022 - 10:18 AM (IST)

आलिया भट्ट और रणबीर कपूर की शादी का काउंटडाउन शुरु हो गया है। जल्द ही दोनों एक प्यारे से रिश्ते में बंधकर जिंदगी की नई शुरुआत करने जा रहे हैं। खबरों की मानें तो 13 अप्रैल यानी कि आज से दोनों की शादी के फंक्शन शुरु हाेने जा रहे हैं। इस सब के बीच एक बात जो गौर करने वाली है वो यह है कि 13 तारीख आलिया- रणबीर के साथ- साथ  नीतू और ऋषि कपूर के लिए भी काफी मायने रखती है।

PunjabKesari

यह बात बहुत कम लोग जानते होंगे कि  43 साल पहले 13 अप्रैल को ही  ऋषि कपूर और नीतू कपूर ने सगाई की थी और आज इस दिन उनका बेटा नई शुरुआत करने जा रहा है। रणबीर के माता- पिता की प्रेम कहानी भी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं थी।  दोनों की सगाई ‘याराना’ की शूटिंग के दौरान हुई थी लेकिन दिलचस्प बात है कि उस वक्त ऋषि अपनी सगाई से भी अंजान थे।

PunjabKesari

ऋषि कपूर और नीतू सिंह की सगाई का किस्सा बड़ा ही मजेदार था। नीतू कपूर को पहली ही नजर में दिल दे बैठने वाले एक्टर   माता-पिता को अपने प्यार के बारे में बताने में डरते थे। ऐसे में उनकी बहन ने इस रिश्ते को अगले पड़ाव तक पहुंचाया।  ऋषि कपूर ने अपनी बायोग्राफी में इस बात का जिक्र करते हुए बताया था कि- एक बार उनके परिवार ने एक सगाई के फंक्शन में शामिल होने के लिए दिल्ली बुलाया था। वह तब अंजान थे कि परिवार उन्हीं की सगाई प्लान करके बैठा है।

PunjabKesari

ऋषि कपूर को अंदाजा तक नहीं था कि उनके दोस्तों के साथ मिलकर बहन रितु ने सगाई की पूरी प्लानिंग कर ली है। उस समय दिलीप साहब  ने उन्हे मजाकिया अंदाज में कहा था मुझे बेवकूफ मत बनाओ आप वहां अपनी सगाई करने जा रहे हैं लेकिन उन्हें खुद नहीं पता था कि यह बात सच हो जाएगी। हिंदी सिनेमा जगत में 1970 और 1980 के दशक के शीर्ष कलाकारों में शुमार रहीं नीतू कपूर  ने ऋषि कपूर के साथ शादी के तुरंत बाद महज 21 साल की उम्र में अभिनय को अलविदा कह दिया था।

PunjabKesari

हाल ही में नीतू कपूर ने कहा था कि- ऋषि कपूर के जाने से उनके  जीवन में एक बहुत बड़ा खालीपन आ गया है और वह खुद को काम में व्यस्त रखकर इस गहरे दुख से धीरे-धीरे उबरने की कोशिश कर रहीं हैं। उन्होंने इसका श्रेय अपने बेटे रणबीर कपूर और बेटी रिद्धिमा कपूर साहनी को देते हुए कहा था कि दोनों ने ही उन्हें मानसिक रूप से व्यस्त रहने के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Related News

Recommended News

static