ट्रैडीशनल ही नहीं वेस्टर्न में भी खूब देखने को मिल रहा है Banarasi फैशन

Friday, July 7, 2017 6:24 PM
ट्रैडीशनल ही नहीं वेस्टर्न में भी खूब देखने को मिल रहा है Banarasi फैशन

पंजाब केसरी(फैशन): बनारसी फैब्रिक को लोग आज भी उतना ही पसंद करते हैं,जितना बरसों पहले करते थे। राजा-महाराजाओं के समय में तो रानियों की बनारसी साडियों में सोने और चांदी की तारों से कढ़ाई की जाती थी, इसी कारण इसे रॉयल टैक्सटाइल भी कहा जाता है। वैसे आज के समय में भी बनारसी क्रेज कम नहीं हुआ है, आज भी इसे सिल्क के धागों से बुना जाता है।  शादी-विवाह जैसे शुभ अवसरों पर महिलाएं बनारसी साड़ी को ही ज्यादा प्रैफरेंस देती हैं हालांकि धीरे-धीरे हैंडलूम टैक्सटाइल लुप्त हो रहा था लेकिन इसे दोबारा से उन्नत करने के लिए सरकार व अन्य डिजाइनरों की ओर से भरसक प्रयास किए जा रहे हैं। 

रेशम की साड़ियों पर बनारस की बुनाई और जरी का डिजाइन मिलाकर तैयार की गई साड़ी को बनारसी रेशमी साड़ी कहते हैं। पहले तो इसमें शुद्ध सोने की जरी का काम होता था लेकिन सोने की कीमत बढ़ने के चलते नकली चमकदार जरी का इस्तेमाल होेने लगा जो आज भी जोरों-शोरो पर चालू है। इनके ऊपर बहुत तरह-तरह की डिजाइनिंग की जाती हैं, जिन्हें मोटिफ कहते हैं लेकिन कुछ पंरपरागत मोटिफ (बूटी, बूटा, कोनिया, बेल, जाल और जंगला, झालर)आज भी अपनी अलग पहचान के साथ फैशन में इवरग्रीन लिस्ट में शामिल है।

बनारसी में बूटी मोटिफ का खास आकर्षण
बनारसी के महत्वपूर्ण डिजाइनों में से एक है बूटी मोटिफ। इससे साड़ी के बॉर्डर या मुख्य भाग को कवर किया जाता है। बूटियों में छोटे-छोटे तस्वीरों की आकृति के अलग-अलग पैटर्न में दो या तीन रंगो के धागों की मदद ली जाती हैं। अगर पांच धागे मिक्स हो तो इसे पचरंगा (जामेवार) कहा जाता है और जब बूटी का आकृति बड़ी कर दी जाए तो यह बूटा मोटिफ का रूप ले लेता है। 
PunjabKesari
समय के साथ बनारसी का फैशन सिर्फ साड़ियों तक ही सीमित नहीं रहा बल्कि लड़के भी रॉयली लुक पाने के लिए बनारसी शैरवानी, पगड़ी, साफा, बंदगला आदि पहनना बहुत पसंद करते हैं। वहीं लड़कियां बनारसी लंहगा, स्कर्ट्स, दुप्पटे के साथ इनमें वैस्टर्न टच पेंटकोट, वनपीस भी ट्राई कर रही हैं। इन दिनों लड़कियां खास फैमिली या पार्टी फंक्शन में रॉयल और ट्रैडीशनल लुक के लिए बनारसी आऊटफिट को ही ज्यादा चूज कर रही हैं। अगर आप भी किसी फंक्शन में खास अट्रैक्शन पाना चाहती हैं तो बनारसी में डिफरैंट स्टाइल वनपीस गाऊन, फ्लोर लैंथ सूट या प्लेन सूट के साथ हैवी बनारसी दुप्ट्टा ट्राई कर सकती हैं।

पुरानी साड़ियों का करें रियूज 
अगर आपके पास अापकी मां या फिर दादी नानी की पुरानी बनारसी साड़ियां पड़ी हैं तो उन्हें नई ड्रैस तैयार करवाने में रियूज करें। बनारसी में कुछ यूनिक व वैस्टर्न का टच चाहती हैं तो प्लेन स्ट्राइप शर्ट या टी-शर्ट के साथ बनारसी स्कर्ट बनवाएं। आजकल बॉलीवुड दीवाज भी बनारसी में वेस्टर्न स्टाइल ड्रैसअप पहनती हुई नजर आ रही हैं। बनारसी में बना स्टाइलिश पेंट कोट, शॉर्ट ड्रैस, लहंगा और जेकेट काफी अट्रैक्टिव और यूनिक दिखती है। साड़ी को आप दोबारा से रियूज कर अपने लिए बढ़िया सी डिजाइनर ड्रैस तैयार करवा सकते हैं।     

PunjabKesari
- वंदना डालिया



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!