घर में वास्तु दोष पैदा करती हैं ये चीजें, समस्याओं का बन सकती हैं कारण

punjabkesari.in Friday, Dec 02, 2022 - 02:05 PM (IST)

घर में रखी हुई चीजें भी आपके जीवन पर बहुत ही गहरा प्रभाव डालती हैं।  इन चीजों से आपके घर में पॉजिटिव और नेगेटिव एनर्जी का संचार होता है। साथ ही घर में रहने वाले सदस्यों के जीवन पर भी बहुत ही गहरा असर पड़ता है। घर में नेगेटिविटी और वास्तु दोष होने से सदस्य बीमार रहते हैं और तरक्की व स्वास्थ्य पर भी गहरा असर पड़ता है। इसके अलावा वैवाहिक जीवन पर यह चीजें प्रभाव डालती हैं। आज आपको ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे जो आपके घर का वास्तु दोष का कारण बन सकती हैं। तो चलिए जानते हैं इनके बारे में...

दरवाजे और खिड़कियां खुलने की सही दिशा 

घर में मौजूद खिड़कियां और दरवाजे भी आपके जीवन में वास्तु दोष पैदा कर सकते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार दरवाजे खिड़कियां ऐसे नहीं बनाने चाहिए कि यह खोलते समय बाहर की ओर खुलें। इससे घर के मुख्य सदस्य को मानसिक तनाव हो सकता है। 

PunjabKesari

न चिपकाएं दीवार पर तस्वीर 

वास्तु मान्यताओं के अनुसार, घर की दीवार पर कोई पोस्टर या तस्वीर नहीं चिपकानी चाहिए। इससे भी आपके घर में वास्तु दोष उत्पन्न हो सकता है। 

न हो मंदिर में ऐसी मूर्ति 

घर में मौजूद पूजा घर भी सदस्यों के जीवन पर गहरा प्रभाव डालता है। मंदिर में मां काली, खड़ी मुद्रा में कोई भी मूर्ति और खंडित मूर्तियां कबी भी नहीं रखनी चाहिए। यह मूर्तियां भी घर के वास्तु दोष का कारण बन सकती हैं। 

PunjabKesari

दरवाजे के सामने न हो चूल्हा 

वास्तु मान्यताओं के अनुसार, घर में मौजूद किचन का दरवाजा चूल्हे के सामने नहीं होना चाहिए। दरवाजे के सामने चूल्हा होने से भी घर में वास्तु दोष पैदा हो सकता है।

चमगादड़ का आना 

चमगादड़ का भी घर में आना शुभ नहीं माना जाता है। वास्तु मान्यताओं के अनुसार, यदि घर में एक बार चमगादड़ आ जाए तो 15 दिनों तक वास्तु दोष रहता है। इसलिए आप कुछ ऐसा उपाय करें कि यह चमगादड़ घर में न आ पाए। 

आर्टिफिशयल फूल 

घर की शोभा बढ़ाने के लिए बहुत से लोग फूलों का इस्तेमाल करते हैं। आर्टिफिशयल फूल घरों में लगाते हैं लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार मुरझाए हुए फूल आपके घर में नेगेटिविटी और वास्तु दोष पैदा कर सकते हैं। इसलिए यदि फूल सूख चुके हैं तो उन्हें तुरंत घर से हटा लें। 

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

Related News

Recommended News

static