आखिरी वक्त तक नहीं छूटा दुखों से पीछा, पिता के डर से 2 घंटे में की थी शादी

8/1/2020 11:29:46 AM

बॉलीवुड में ऐसी कई एक्ट्रेसेज रही हैं जो अपनी बेहतरीन एक्टिंग के लिए जानी जाती हैं इन्हीं में से एक थी मीना कुमारी। मीना कुमारी को बॉलीवुड इंडस्ट्री की ट्रेजडी क्वीन कहा जाता है। मीना कुमारी का जन्म 1 अगस्त 1933 को मुंबई में हुआ।मीना कुमारी का असली नाम महजबीं बानो था।  मीना कुमारी जब पैदा हुई तो उनके पिता अली बख्‍श के पास डॉक्टर को देने तक के पैसे नहीं थे।  हालत ऐसे थे कि उनके मां-बाप ने तय किया कि बच्‍ची को मुस्लिम यतीमखाने के बाहर सीढ़‍ियों पर छोड़ दिया जाए।  वे छोड़ भी आए लेकिन उनके पिता का मन नहीं माना। उनके पिता वापिस उन्हें घर ले आए।

7 साल की उम्र में शुरू की एक्टिंग

घर के हालतों के कारण 7 साल की उम्र में ही मीना कुमारी ने एक्टिंग करनी शुरू कर दी। वह पहली बार  फिल्‍म ‘फरजद-ए-हिंद’ में नजर आईं। इसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में काम किया लेकिन फिल्‍म ‘बैजू बावरा’ ने उन्हें पहचान दिलाई। 
PunjabKesari, Meena kumari

दुखों से भरी रही पर्सनल लाइफ

मीना कुमारी की पर्सनल लाइफ दुखों से भरी रहीं। मीना कुमारी की एक्टिंग से इंप्रेस होकर फिल्ममेकर कमाल अमरोही ने उन्हें अपनी फिल्म में लेना चाहा लेकिन कमाल अमरोही के स्वभाव के चलते एक्ट्रेस ने मना कर दिया। फिर जैसे-तैसे कमाल अमरोही ने मीना कुमारी को फिल्म के लिए मनाया। कमाल अमरोही ने फिल्म 'अनारकली' के लिए मीना कुमारी को साइन किया लेकिन किसी कारण यह फिल्म पूरी नहीं हो सकी।

शादीशुदा और 3 बच्चों के पिता से की शादी

इसी दौरान एक हादसे में मीना कुमारी को चोट लग गई और उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया। इस हादसे के बारे में सुनकर कमाल अमरोही घायल मीना कुमारी को देखने अस्पताल पहुंचे। वहां मीना कुमारी की छोटी बहन ने कमल अमरोही को बताया कि आपा मौसम्बी का जूस नहीं पी रही लेकिन कमाल को देखकर मीना ने एक झटके में सारा जूस पी लिया।  वही कमाल हर हफ्ते मीना कुमारी को देखने मुंबई से पूना आने लगे। यही से दोनों के बीच प्यार शुरू हुआ। दोनों एक-दूसरे को खत लिखने लगे। वही मीना कुमारी के पिता को दोंनों की बढ़ती नजदीकियां रास नहीं आई क्योंकि कमाल पहले से दो शादियां कर चुके थे और तीन बच्चों के पिता थे। मीना को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता था। मीना कमाल को चंदन कहती थी और कमाल मीना को मंजू।

पिता के डर से 2 घंटे में रचाई शादी

हादसे के बाद मीना कुमारी अपनी बहन के साथ मसाज क्लिनिक पर रोज जातीं थीं। मीना के पिता दोनों को कार से 2 घंटे के लिए वहां छोड़ा करते थे। 1952 को दोनों बहनें पिता के छोड़ने के बाद कमाल अमरोही के पास पहुंचीं। काजी पहले तैयार थे,उन्होंने मीना और कमाल का निकाह किया। बता दें कि उस वक्त मीना की उम्र सिर्फ 18 साल की थी। बाद में मीना अपनी बहन के साथ डॉक्टर के क्लीनिक लौटी और फिर घर। उन्होंने घरवालों से शादी की बात छिपाई रखी। शादी के एक साल और कुछ महीनों के बाद मीना कुमारी, कमाल अमरोही के घर पहुंचीं। मीना और कमाल की लवस्टोरी ज्यादा देर तक नहीं चली।
PunjabKesari, Meena kumari

दरअसल, मीना कुमारी तब तक सुपर स्टार बन चुकीं थीं। मीना कुमारी की सफलता कमाल अमरोही को खटकने लगी। दोनों के बीच इस तरह दूरियां आ गई कि अमरोही ने कमाल को फिल्में छोड़ने के लिए कह दिया। एक दिन गुस्से में कमाल ने मीना को तीन तलाक कह दिए।

आपसी रिश्तों की खराबी के चलते मीना शराब पीने लगी थीं। निजी जिंदगी की कशमकश ने उन्हें बीमार कर दिया। 1972 में मजह 39 साल की उम्र में बेमिसाल अदाकारा और शायरा हमेशा के लिए दुनिया छोड़ गईं।


Priya dhir

Related News