क्या गर्भवती महिलाओं को खाना चाहिए बैंगन? जानिए एक्सपर्ट की राय

punjabkesari.in Monday, Feb 07, 2022 - 02:56 PM (IST)

जब गर्भवती महिलाओं की डाइट की बात आती है, तो उन्हें बहुत कुछ ध्यान रखने की जरूरत होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दौरान महिलाएं जो भी खाती हैं, उसका सीधा असर शिशु पर होता है। बहुत सी महिलाएं इस बात को लेकर कन्फ्यूज रहती हैं कि क्या उन्हें प्रेगनेंसी के दौरान खनिजों, विटामिन और पोषक तत्वों से भरपूर बैंगन खाना चाहिए। चलिए आपको बताते हैं कि इसपर एक्सपर्ट की क्या राय है...

क्या प्रेगनेंसी में खा सकते हैं बैंगन?

बहुत से लोग गर्भावस्था के दौरान बैंगन ना खाने की सलाह देते हैं जबकि वह पोषक तत्वों से भरपूर माना जाता है, जिनकी शिशु को जरूरत होती है। एक्सपर्ट के मुताबिक, प्रेग्नेंट महिलाएं बैंगन खा सकती हैं लेकिन सीमित मात्रा में। रोज या बहुत जल्दी इसका सेवन करने से बचें। बैंगन में फाइबर, फोलिक एसिड और पोटैशियम होता है, जो भ्रूण के विकास में मददगार साबित हो सकता है।

PunjabKesari

आयुर्वेद क्या कहता है?

आयुर्वेद के अनुसार गर्भवती महिलाओं को बैंगन से परहेज करना चाहिए। दरअसल, इसमें फाइटोहोर्मोन अधिक मात्रा में होता है, जो प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम और एमेनोरिया के इलाज में मदद करते हैं। मगर, अधिक मात्रा में इसका सेवन मासिक धर्म को उत्तेजित कर सकता है, जो गर्भवती महिलाओं के लिए अच्छा नहीं है।

समय से पहले डिलीवरी

विशेषज्ञों के अनुसार, जिस मिट्टी में बैंगन उगाए जाते हैं, वो टोक्सोप्लाज़मोसिज़ से भरपूर होती है। ऐसे में बैंगन में जो यौगिक अवशोषित हो जाता है, उससे समय से पहले प्रसव का खतरा बढ़ सकता है।

स्किन एलर्जी

ऐसा पाया गया है कि बैंगन खाने के बाद अक्सर लोगों को स्किन एलर्जी की शिकायत होती है। इस वजह से भी गर्भवती महिलाओं को बैंगन ना खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि इससे हाथ, पैर और पेट में खुजली हो सकती है।

PunjabKesari

गर्भवती महिलाओं के लिए कैसे फायदेमंद है बैंगन?

. इसमें विटामिन ए और विटामिन ई जैसे पोषक तत्वों की अच्छी मात्रा होती है।
. इसमें फोलिक एसिड भी होता है जो बच्चे में लाल रक्त कोशिकाओं के विकास के लिए जरूरी है।
. इनमें पोटेशियम, लोहा, मैंगनीज, तांबा भी  होता है, जो बच्चे में स्वस्थ ब्लड सर्कुलेशन में मदद करते हैं।
. बैंगन नियासिन, विटामिन ए, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, विटामिन ई से भरपूर होता है, जो भ्रूण के विकास के मददगार है।
. यह महिलाओं में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है और खून की कमी भी नहीं होने देता।
. इससे इम्यूनिटी भी बूस्ट होती है और हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है।
. बैंगन में डायटरी फाइबर होता है, जिससे पेट की समस्याएं नहीं होती।

PunjabKesari

वैसे तो बैंगन के फायदे साइड इफेक्ट से कहीं ज्यादा होते हैं लेकिन गर्भवती महिलाएं इसका सेवन करने से पहले अपने डाइटिशियन या डॉक्टर से सलाह लें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Related News

Recommended News

static