इन ट्रिक्स के साथ करें Teenager बच्चे को हैंडल, पेरेंट्स को समझेंगे दोस्त

punjabkesari.in Wednesday, Jun 22, 2022 - 12:24 PM (IST)

बच्चे जैसे-जैसे उम्र में बढ़ते जाते हैं, माता-पिता की जिम्मेवारी भी उनके प्रति और भी बढ़ती जाती है। ऐसे में बच्चों को बेहतरीन बनाने के लिए माता-पिता को भी कई पड़ावों से गुजरना पड़ता है। कई बार बच्चे प्यार से समझाने पर मान जाते हैं  तो कभी कभार माता-पिता को बच्चों से सख्त होना पड़ता है। टीएनज उम्र एक ऐसा पड़ाव है यहां से बच्चे के भविष्य की शुरुआत होती है। इस दौरान यदि माता-पिता बच्चों से और भी सख्ती से पेश आएं तो वह बातें छुपाना शुरु कर देते हैं। टीएनज उम्र के दौरान आप बच्चे का दोस्त बनने का प्रयास करें। आप उनसे दोस्ती करके उन्हें अच्छे से गाइड कर सकते हैं। तो चलिए आपको ऐसे टिप्स बताते हैं जिनसे आप बच्चों को और भी अच्छे से गाइड कर पाएंगे। 

 साथ देने की कोशिश करें 

यह उम्र बहुत ही नाजुक होती है। इस दौरान बच्चे कई गलतियां करते हैं, आप उन्हें डाटंने की जगह उनकी बात समझने का प्रयास करें। उन्हें किसी भी तरह की परेशानी से बाहर निकालने की कोशिश करें। आप बच्चों को समझाएं , ताकि वो भविष्य में अपनी गलती न दोहरा सकें। बच्चे आपको अपना अच्छा दोस्त मानने लगेंगे। 

PunjabKesari

 आ रहे बदलाव करें स्वीकार 

इस उम्र के दौरान बच्चे का स्वभाव भी बहुत ही जल्दी बदलता है। बच्चे कभी बहुत ज्यादा खुश और कभी बहुत ही ज्यादा नाराज हो जाते हैं। आप उनकी उम्र को पड़ाव को समझते हुए उनके दिल की बात जानने की कोशिश करें। उनके व्यवहार में आ रहे बदलाव को समझने का प्रयास करें। बच्चों को अगर कोई समस्या है तो उसे सुलझाने का प्रयास करें। 

बच्चों को दे समय 

आजकल माता-पिता अपनी जिंदगी में इतने व्यस्त रहते हैं कि बच्चों को पर्याप्त समय नहीं दे पाते। इस समस्या के कारण बच्चे खुद को बहुत ही अकेला महसूस करने लगते हैं। ऐसी परिस्थिति में कई बार बच्चे माता-पिता से दूर भी हो जाते हैं। अपने व्यस्त लाइफस्टाइल से थोड़ा समय बच्चों के लिए जरुर निकालें। उनसे बात करें। इसके अलावा आप बच्चों के स्कूल प्रोजेक्ट में भी उनकी सहायता जरुर करें। 

PunjabKesari

अपनी बातें करें शेयर 

बच्चों से नजदीकियां बढ़ाने के लिए जरुरी नहीं कि सिर्फ आप उनकी बातें ही सुनें। आप अपनी समस्याएं भी बच्चों के साथ शेयर कर सकते हैं। इससे बच्चों का आप पर विश्वास और भी ज्यादा बढ़ेगा। उनके और आपके रिश्ते भी मजबूत होंगे। बच्चे कोई भी बात आपके साथ शेयर करने से पहले घबराएंगे नहीं। 

फ्रेंड बनने की कोशिश करें 

आप बच्चों के अच्छे फ्रैंड बनने का प्रयास करें। उनके साथ फ्रैंडशिप करने की कोशिश करे, इससे बच्चे आपके और भी करीब आएंगे। बच्चे से उनके दिल की बातें पूछने का प्रयास करें। बदलते दौर में आप बच्चे के मनपसंद की चीजें उसके लिए करके उसके बहुत अच्छे फ्रैंड बन सकते हैं। 

PunjabKesari
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

Related News

Recommended News

static