वजाइनल इंफेक्शन से बचने के लिए क्या करें क्या नहीं?

punjabkesari.in Monday, Feb 12, 2024 - 05:48 PM (IST)

महिलाओं में वजाइनल इंफेक्शन एक आम समस्या है। वजाइनल इंफेक्शन को यीस्ट इंफेक्शन भी कहते हैं। यह किसी इंफेक्शन, बैक्टीरिया या वायरस के कारण हो सकती है। यह इंफेक्शन होने पर खुजली, जलन, डिस्चार्ज, पेशाब या शारीरिक संबंध बनाते हुए खुजली होना जैसे लक्षण दिख सकते हैं। वजाइनल इंफेक्शन हार्मोन्ल परिवर्तन, कुछ दवाईयों के चलते भी हो सकती है। ऐसे में इसे बढ़ने से रोकने के लिए प्राइवेट पार्ट की सफाई रखना जरुरी है। प्राइवेट पार्ट को साफ सुथरा रखकर आप इस समस्या से राहत पा सकती हैं। आइए आज आपको इस आर्टिकल के जरिए कुछ ऐसे टिप्स बताते हैं जिन्हें अपनाकर आप वजाइनल इंफेक्शन से बच सकती हैं। आइए जानते हैं। 

आरामदायक कपड़े पहनें 

ज्यादा टाइट कपड़े पहनने के कारण भी वजाइनल इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है। मुख्यतौर पर यदि जेनेटियल एरिया के आस-पास ऐसे कपड़े पहनने से नमी हो सकती है जिसके कारण बैक्टीरिया पनप सकते हैं। वजाइनल इंफेक्शन से बचने के लिए कॉटन के अंडरवियर पहनें और अपनी वजाइना को साफ रखें।

PunjabKesari

पैड बदलते रहें 

यदि आप पीरियड्स के दिनों से गुजर रही हैं तो ध्यान रहे कि पैड समय-समय पर बदलते रहें। इससे बैक्टीरिया नहीं पनपेंगे और आप इंफेक्शन से बच जाएंगी। इसके अलावा प्राइवेट पार्ट को आगे और पीछे से अच्छी तरह से साफ करते रहें।  

साफ-सफाई का रखें ध्यान 

रोज अपनी वजाइना को साफ करें। हल्के सुगंध वाले साबुन और गर्म पानी के साथ वजाइना को क्लीन करें। इसके अलावा बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने के लिए बाथरुम करने के बाद भी अपनी प्राइवेट पार्ट को साफ करना ना भूलें।

गीले कपड़े न पहनें 

इस बात का ध्यान रखें कि कभी भी गीले कपड़े न पहनें। गीले कपड़े पहनने के कारण भी बैक्टीरिया पनप सकते हैं जिसके कारण इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।   

बैलेंस्ड डाइट लें 

वजाइनल इंफेक्शन से बचने के लिए अपनी डाइट का भी ध्यान रखें। प्रोबायोटिक युक्त खाद्य पदार्थ अपनी डाइट में शामिल करें। यह वजाइन में अच्छे बैक्टीरिया का संतुलन बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा सारा दिन खूब पानी पिएं और खुद को हाइड्रेटेड रखें। पर्याप्त मात्रा में पानी पीने शरीर में विषाक्त पदार्थ बाहर निकालने में मदद मिलेगी। 

PunjabKesari

सुरक्षित शारीरिक संबंध बनाएं

शारीरिक संबंध बनाते हुए भी वजाइना की साफ-सफाई का ध्यान रखें। इसके अलावा शारीरिक संबंध बनाने के दौरान कंडोम का इस्तेमाल जरुर करें इससे भी वजाइनल इंफेक्शन का खतरा काफी कम होता है। 

डॉक्टर को दिखाएं 

यदि आपको वजाइना में किसी भी तरह की इंफेक्शन का लक्षण जैसे खुजली, डिस्चार्ज होना, इचिंग जैसी समस्याएं होती है तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर लें। 

वजाइनल इंफेक्शन हो गई है तो क्या करें?

ज्यादा प्रोडक्ट्स इस्तेमाल न करें 

पैड, टैम्पोन, वजाइनल स्प्रे या फिर वुमेन हाइजीन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से भी बचें। इनका इस्तेमाल करने के कारण भी वजाइनल टिश्यू में समस्या हो सकती है जिससे इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।

शुगरी फूड्स कम खाएं 

चीनी का सेवन कम मात्रा में करें। ज्यादा मात्रा में चीनी खाने से भी बैक्टीरिया पनप सकते हैं। इसके अलावा पेस्ट्री, सोडा, व्हाइट ब्रेड जैसी चीजों का सेवन भी न करें इससे भी वजाइनल इंफेक्शन का जोखिम कम करने में मदद मिलेगी।

PunjabKesari

ऐसे प्रोडक्ट्स न करें इस्तेमाल 

वजाइनल एरिया में ज्यादा कैमिकल, सुंगधित लोशन या फिर हैवी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें। इसके कारण भी वजाइना में जलन पैदा हो सकती है। 

लिक्विड न करें इस्तेमाल

लिक्विड का इस्तेमाल करने के कारण वजाइना का पीएच लेवल बिगड़ सकता है ऐसे में  किसी भी तरह का लिक्विड प्रोडक्ट वजाइना पर इस्तेमाल न करें।

टाइट कपड़े न पहनें 

ज्यादा टाइट कपड़े पहनने से भी इंफेक्शन बढ़ सकती है। ऐसे में तंग कपड़े पहनने से बचें। इसके अलावा सिंथेटिक कपड़ों से दूर रहें। यह भी बैक्टीरिया बढ़ा सकते हैं।

असुरक्षित शारीरिक संबंध 

असुरक्षित शारीरिक संबंध के कारण भी वजाइनल इंफेक्शन का खतरा बढ़ता है। इसके कारण वजाइना में इंफेक्शन हो सकता है इसलिए शारीरिक संबंध बनाते हुए साफ-सफाई का खास ध्यान रखें।  

खुद से कोई भी दवाई न लें 

वजाइनल इंफेक्शन से बचने के लिए किसी भी तरह की एंटीबायोटीक दवाई न लें। यदि इंफेक्शन बढ़ती है तो डॉक्टरी सलाह पर ही कोई दवाई लें।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

Recommended News

Related News

static