मुर्गी या बत्तख के अंडे, सेहत के लिए क्या है फायदेमंद?

6/24/2020 11:34:42 AM

प्रोटीन व अन्य पोषक तत्वों से भरपूप अंडे का सेवन सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। बीमारियों से बचने के लिए डॉक्टर रोजाना एक अंडा खाने की सलाह देते हैं। मगर, अक्सर लोगों के मन में सवाल रहता है कि मुर्गी के अंडे ज्यादा फायदेमंद है या बत्तख के। चलिए आपको बताते हैं कि दोनों में से सेहत के लिए क्या फायदेमंद है...

मुर्गी व बत्तख के अंडे में फर्क

बतख के अंडे मुर्गी के अंडे से लगभग 50% बड़े, सुनहरा, मलाईदार जर्दी वाले होते है। यही वजह की लोग बत्तख के अंडे खाना पसंद करते हैं। जिन लोगों को आंख से जुड़ी बीमारियां होती है उन्हें बत्तख का अंडे खाने की सलाह दी जाती है।

PunjabKesari

मुर्गी के अंडे से ज्यादा हेल्दी है बत्तख के अंडे

मुर्गी के मुकाबले 1 बत्तख के अंडे में थोड़ा ज्यादा पोषण होता है। दरअसल, बतख अंडे का वजन लगभग 2.5 औंस (70 ग्राम) होता है, जबकि 1 बड़ा मुर्गी का अंडा 1.8 औंस (50 ग्राम) के करीब होता है। यही वजह है कि बत्तख के अंडे में थोड़ा ज्यादा पोषण पाया जाता है। इसके अलावा बत्तख के अंडे में विटामिन बी12 भी होता है, जो रैड ब्लड सेल्स, डीएनए संश्लेषण और स्वस्थ तंत्रिका क्रिया के लिए जरूरी है।

चलिए अब आपको बताते हैं बत्तख के अंडे के फायदे...
प्रोटीन से भरपूर

प्रोटीन और अमीनो एसिड से भरपूर बत्तख के अंडे बॉडी बनाने वालों के लिए बेस्ट ऑप्शन है।

दिल को रखे स्वस्थ

इसकी जर्दी में भी हेल्दी फैट व  कोलेस्ट्रॉल, विटामिन्स और खनिज होते हैं, जो दिल के रोगों का खतरा कम करते हैं।

कोशिकाओं और डीएनए

बत्तख के अंडे में कैरोटेनॉइड नामक एंटीऑक्सिडेंट यौगिक होता है, जो कोशिकाओं और डीएनए को ऑक्सीडेटिव क्षति से बचाता हैं। इससे पुरानी और बढ़ती उम्र से संबंधित बीमारियों का खतरा कम होता है।

मोतियाबिंद से बचाव

रोजाना 1 अंडे का सेवन मोतियाबिंद से भी बचाता है। साथ ही जिन लोगों को आंखों से जुड़ी कोई बीमारी हो उन्हें इसका सेवन जरूर करना चाहिए। इसके अलावा यह आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी मददगार है।

कैंसर से बचाव

इसमें कैरोटीनॉयड्स कैरोटीन, क्रिप्टोक्सैन्थिन, जेक्सैंथिन और ल्यूटिन जैसे तत्व होते हैं, जो मैक्यूलर डिजनरेशन (एएमडी) और कैंसर के जोखिम को कम करते हैं।

PunjabKesari

मस्तिष्क को रखता है स्वस्थ

इसकी जर्दी में भरपूर कोलीन (Choline) होता है, जो स्वस्थ कोशिका झिल्ली के साथ-साथ आपके मस्तिष्क, न्यूरोट्रांसमीटर और तंत्रिका तंत्र के लिए जरूरी है। इससे ना सिर्फ आप तनाव से बचे रहते हैं बल्कि यह एंग्जाइटी, डिप्रेशन का खतरा भी कम करता है।

एंटीवायरल व एंटीफंगल गुणों से भरपूर

शोधकर्ताओं के मुताबिक, इनमें जीवाणुरोधी, एंटीवायरल और एंटीफंगल गुण होते हैं, जो आपको मौसमी सर्दी-जुकाम से बचा सकते हैं और आपके शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाते हैं।


Anjali Rajput

Related News