दूध की शक्ति को कई गुना बढ़ा देते हैं दालचीनी और शहद, ये बीमारियां हो जाएंगी फुर्र

punjabkesari.in Saturday, Jan 28, 2023 - 05:53 PM (IST)

दूध पोषक तत्वों से भरपूर होता है और यह हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद भी होता है। हेल्थ एक्पर्टस अच्छी फिटनेस के लिए सभी लोगों को दूध पीने की सलाह देते हैं। हमारे दांतों और हड्डियों की सेहत के लिए दूध बहुत जरुरी होता है। इसमें कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन्स जैसे तत्व पाए जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अगर दूध में शहद और दालचीनी जैसे तत्वों को मिलाया जाए तो इससे इसकी ताकत कई गुना बढ़ जाती है और ये मिश्रण हमारे शरीर को कई तरह की बीमारियों से भी बचाता है। शहद में विटामिन और मिनरल्स के साथ-साथ एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी क्वालिटी, पोटैशियम और फास्फोरस भरपूर मात्रा में पाया जाता है। आइए जानते हैं कि अगर दूध में शहद और दालचीनी को मिलाकर पिया जाए तो इससे क्या-क्या फायदे मिलते हैं।

इम्यूनिटी होती है मजबूत

सर्दियों के मैसम में बीमारियां और संक्रमण होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। इससे बचने के लिए इम्यूनिटी मजबूत होना बहुत ज्यादा जरुरी है। अगर आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम है तो आपको दूध में दालचीनी और शहद को मिक्स करके पीना चाहिए। इसके एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण शरीर की संक्रमण से रक्षा करते हैं।

PunjabKesari

पाचन को बनाए बेहतर

दूध के साथ दालचीनी और शहद मिलाकर पीने से पाचन शक्ति भी बेहतर होती है। जिन लोगों का ठीक से पेट साफ नहीं होता या फिर खाना नहीं पचता, उन्हें इसका सेवन करना चाहिए। शहद और दालतीनी, गैस और एसिडिटी से राहत देते हैं।

PunjabKesari

कोलेस्ट्रॉल को कम करता है

मौजूदा समय में कोलेस्ट्रॉल के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कोलेस्ट्रॉल की समस्या तब होती है जब हमारे खून की नसों में फैट जमने लगता है और अगर इसकी मात्रा ज्यादा हो जाए तो इससे हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल की बीमारी स्वास्थय के लिए घातक होती है। दालचीनी और शहद कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करता है।

जोड़ों के दर्द में राहत

दूध, दालचीनी और शहद का मिश्रण उन लोगों के लिए भी रामबाण है जो लोग जोड़ों के दर्द से पीड़ित है। दूध के साथ दालचीनी और शहद पीने से हड्डियों को मजबूती मिलती है। दूध में कैल्शियम उच्च मात्रा में पाया जाता है जबकि शहद में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण इसकी ताकत को कई गुना बढ़ा देते हैं।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Charanjeet Kaur

static