ये हैं दुनिया के सबसे अनोखे मंदिर, जहां चोरी करने पर होती है मन्नत पूरी

Wednesday, October 11, 2017 3:23 PM
ये हैं दुनिया के सबसे अनोखे मंदिर, जहां चोरी करने पर होती है मन्नत पूरी

भारत देश अपने खूबसूरत मंदिरों के लिए बहुत ही मशहूर है। यहां कई ऐसिहासिक और प्राचीन मंदिर है जिनका इतिहास जानने कि लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। किसी हिल स्टेशन से ज्यादा लोगों की भीड़ मंदिरों में ही देखी जाती है। जिस तरह हर मंदिर का अपना इतिहास होता है उसी तरह उनके अपने रीति-रिवाज भी होते हैं। आज हम आपको ऐसे ही कुछ मंदिरों के बारे में बताएंगे जिनके रिवाज और मान्नताएं बहुत अनोखी हैं।

1. दुर्गा माता का मंदिर, जाटखेड़ा गांव
मध्यप्रदेश के जाटखेड़ा गांव में दुर्गा माता का एक मंदिर है जहां महिलाओं के जाने पर पाबंदी है। लोगों का मानना है कि महिलाओं के मंदिर में जाने से मां नाराज हो जाती हैं और अगर भूलकर कोई महिला इस मंदिर में प्रवेश करती है तो मां मधमक्खी के रूप में उस महिला को काटती है।
2. सिद्धपीठ चूड़ामणि देवी मंदिर, उत्तराखंड
उत्तराखंड के इस मंदिर की परंपराएं बहुत ही अनोखी हैं। यहां चोरी करने वाले शख्स की हर मनोकामना पूरी होती है।
PunjabKesari
3. श्री संतेश्वर मंदिर, कर्नाटक
इस मंदिर में बच्चे और उसके परिवार का भाग्य उदय करने के लिए उसे छत से नीचे फैंक दिया जाता है। लोगों का मानना है कि ऐसा करने से बच्चा स्वस्थ रहता है। इसके लिए बच्चे को 50 फीट की ऊंचाई से नीचे फैंका जाता है, जहां नीचे खड़े लोग बच्चे को चादर से पकड़ लेते हैं। मंदिर की यह परंपरा पिछले 700 सालों से चली आ रही है।
PunjabKesari
4. मिर्जापुर के मंदिर, वाराणसी
उत्तरप्रदेश के कुछ मंदिरों में कराहा पूजन की परंपरा निभाई जाती है। इस अनोखी परंपरा के दौरान नवजात बच्चों को खौलते दूध से नहलाया जाता है। लोगों का मानना है कि खौलते दूध से नवजात को नहाने से भगवानव खुश हो जाते हैं और बच्चे को आशीर्वाद देते हैं। 
5. भगवती देवी मंदिर, कोडुंगल्लूर
यह मंदिर वैसे तो भगवान शिव का है लेकिन यहां लोग भगवती मां की पूजा करते हैं। इस मंदिर में भरणि उत्सव मनाया जाता है जिसमें लोग लाठियों और तलवारों को हाथ में लेकर नाचते हुए मां की पूजा करते हैं। यहीं नहीं लोग इस उत्सव में अपना खून भी मां को चढ़ाते हैं।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!