बच्चे को लग जाए 'एडल्ट मूवी' की लत तो ऐसे छुड़ाएं

Monday, May 1, 2017 5:00 PM
बच्चे को लग जाए 'एडल्ट मूवी' की लत तो ऐसे छुड़ाएं

पंजाब केसरी(पेरेटिंग):  बच्चे बहुत मासूम होते हैं और अपने आस-पास के माहौल को देखकर ही सीखते हैं। आजकल सोशल नैटवर्किंग के बिना किसी का काम नहीं चलता। जब घर में बडे लोग कंप्यूटर,लैपटॉप,मोबाइल फोन या टच स्क्रीन का इस्तेमाल करते हैं तो बच्चे भी इससे बचे नहीं रहते। वह भी 'मोबाइल' और 'इंटरनैट' का जम कर इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में 'सोशल साइट' पर चलने वाली एडल्ट मूवी से भी वह बचे नहीं रहते। 


बच्चों को अच्छे बुरे की कोई पहचान नहीं होती। वे यह नहीं जानते कि 'ए़डल्ड मूवी' में जो दिखाया जाता है असल जिंदगी वह सिर्फ लोगों की खराब मानसिकता का उपज है। बच्चों को अगर इस तरह की 'मूवी' देखने की बुरी लत जाए तो उसे डांटने की बजाए प्यार से समझाएं। ऐसे बहुत से तरीके हैं जिससे आप अपने बच्चों के समझा सकते हैं। 


1. हर काम करने की एक उम्र होती है। उम्र से पहले 'एडल्ट' बातें मानसिक तौर पर नुकसान भी पहुंचा सकती हैं। बच्चे से इस बारे में बात करें। 


2. बच्चों के साथ दोस्त की तरह बात करें ना कि मां-बाप की तरह पेश आएं। 

3. उनको यह बात समझाएं कि इन फिल्मों में रिश्तों का सिर्फ एक भाग ही बताया जाता है। जबकि रिश्ते प्यार,समझदारी,आपसी तालमेल,त्याग और जिम्मेदारी पर टिके होते हैं। यही असली जिंदगी है। 

4. बच्चों को समझाने की कोशिश करें कि जो कुछ इस तरह की 'मूवी' में दिखाया जाता है,वह सिर्फ लोगों की मानसिकता को भड़काने के लिए किया जाता है। 

5. इस सबके बारे में बच्चे के मन में कोई सवाल आएं तो उसके समझदारी से जवाब दें। उसे डांटने की बजाएं इसके नुकसान के बारे में खुल कर बात करें। 

6. आपकी समझदारी से बच्चे का भविष्य सुधर सकता है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!