बच्चे को रखना है हैल्दी तो हर मां जान लें ये नुस्खें

Wednesday, March 14, 2018 1:47 PM
बच्चे को रखना है हैल्दी तो हर मां जान लें ये नुस्खें

बच्चे चाहे कितने भी बड़े क्यों न हो जाएं, मां-बाप हमेशा उनके लिए फिक्रमंद होते हैं। जितनी देखभाल छोटे यानि नवजात बच्चों की होती है, उतनी ही चिंता पेरेट्स को स्कूल जाने वाले बच्चों की भी होती है। स्कूल में बच्चे बहुत से लोगों के संपर्क में आते हैं जैसे स्कूल के पियन, बस का ड्राइवर आदि। इस सबसे बच्चे को इंफैक्शन होने खतरा रहता है। जैसे गला खराब,खांसी,जुकाम जैसी छोटी-मोटी बीमारियां आम है। इन सबसे अक्सर बच्चों को दो-चार होना पड़ता है। ऐसे में मां को हर समय तैयार रहना चाहिए, उसे इस बात की पूरी जानकारी होना बहुत जरूरी है कि कौन सी बीमारी में कौन सा घरेलू नुस्खा दवाइयों से बेहतर साबित हो सकता है। 


शहद से करें गले की खराश की दूर
गले की खराश होने पर बच्चों को दवाईयां देने की बजाए कुदरती नुस्खा अपनाना बेहतर है। इससे किसी तरह की इंफैक्शन होने का भी डर नहीं रहता। जैसे की बच्चे का गला खराब होने का अहसास हो उसे 1 चम्मच शहद खिला दें। बच्चे इसे शौंक से खाते भी हैं। 


चीनी से होगी हिचकी बंद
वैसे को बच्चों को हिचकी लगना आम बात है लेकिन कई बार कुछ तीखा खा लेने से भी बच्चों को हिचकी लग जाती है। अगर हिचकी न रूके तो उसे एक चम्मच चीनी खिला दें। इससे डायफरग्राम की मांसपेशियों को राहत मिलती है और हिचकी भी जल्दी रूक जाती है। 


नींबू से बढ़ाएं पाचन
बच्चों टॉफियां,चॉकलेट,चिप्स और न जाने क्या-क्या खाते रहते हैं। जिससे उनका हाजमा खराब होने लगता है। इससे छुटकारा पाने में नींबू बेहद मददगार है। पेट से जुड़ी परेशानी से राहत पाने के लिए बच्चे को थोड़ा सा नींबू चाटने के लिए दें। इससे साल्विया का निर्माण होता है और दस्त से आराम मिलता है। नींबू में मौजूद विटामिन सी पाचन क्रिया को मजबूत बनाने का काम करता है। 


 

 


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन