हाई बीपी और माइग्रेन में फायदेमंद है मेंहदी

Tuesday, September 12, 2017 11:18 AM
हाई बीपी और माइग्रेन में फायदेमंद है मेंहदी

किसी शादी या त्योहार में महिलाएं मेंहदी लगाने की रस्म जरूर अदा करती है। मेंहदी जहां हाथों की खूबसूरती बढ़ा देती है, वहीं इससे कई स्वास्थ्य लाभ भी मिलते है। जी हां, मेंहदी लगाने से बहुत सी बीमारियां छुमंतर हो जाती है। आइए जानते है कैसे। 


- माइग्रेन  

PunjabKesari
माइग्रेन की समस्या आजकल आम होती जा रही है। हर कोई सिर दर्द जैसी समस्या से परेशान है। अगर आप भी माइग्रेन के दर्द से झुझ रहे है तो रात को सोने से पहले  200 ग्राम पानी में सौ ग्राम मेहंदी के पत्तों को कूटकर भिगों ले। फिर सुबह उठते ही इस पानी को छानकर पिएं। 

- चमड़ी का रोग 
मेंहदी चर्म रोग के लिए भी फायदेमंद है। अगर आपको भी कोई चर्म रोग है तो मेंहदी के पेड़ की छाल को पीसकर काढा बना लें। फिर इसको सेवन लगभग 1 महीने तक करें। इस प्रक्रिया का इस्तेमाल करते समय साबुन से परहेज रखें। 

- गुर्दे का रोग 
बदलते लाइफस्टाइल में किसी न किसी व्यक्ति को गुर्दों से जुड़ी कोई न कोई प्रॉबल्म घेरे रहती है। अगर आप भी गुर्दे के रोग से परेशान है तो आधा लीटर पानी में पचास ग्राम मेहंदी के पत्तों को पीसकर डाल दें। फिर इस पानी को उबाल लें और छानकर पिएं। 

- उच्च रक्तचाप 

PunjabKesari
उच्चा रक्तचाप यानी हाई बीपी, यह समस्या छोटे और बड़े दोनों को परेशान करती है। इस समस्या में मेंहदी एक वरदान है। मेहंदी के पत्तों के पीसकर अपने पैरों के तलवों और हाथों पर लगाएं। इससे काफी हद तक आराम मिलेगा। 
 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !