तो इन कारणों से डिलीवरी के बाद हो जाती है पीरियड्स में देरी

Sunday, September 10, 2017 1:35 PM
तो इन कारणों से डिलीवरी के बाद हो जाती है पीरियड्स में देरी

डिलीवरी के बाद सभी महिलाओं के शरीर में शारीरिक परिवर्तन होने लगता है। इन्हीं परिवर्तन में से एक समस्यां पीरियड्स की भी होती है। परेशानी तो तब होती है जब डिलीवरी के बाद महिलाओं को पीरियड्स आने में देरी हो जाती है। कुछ म‍हीनों तक पीरियड्स रेगुलर न होने पर महिलाओं का शारीरिक फंक्शन पूरी तरह से बिगड़ जाता है। इसलिए प्रसव के बाद पीरियड्स आने की समस्यां को इग्नोर करने की बजाए इसका कारण जानने की कोशिश करें।

 

1. वजन बढ़ना या घटना
डिलिवरी के बाद मासिक धर्म के बदलने का सबसे बड़ा कारण आपका वजन बढ़ना या घटना है। कई बाद थाइरायड के बढ़ने-घटने या शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण भी यह समस्या हो जाती है। इन पोषक तत्वों का कमी को पूरा कने के लिए महिलाओं को हरी सब्‍जियों का सेवन करना चाहिए।

PunjabKesari

2. ब्रेस्टफीड
प्रसव के बाद पीरियड्स न आने का कारण बच्चे को ब्रेस्टफीड कराना भी हो सकता है। जितने समय तक मां बच्चे तो स्तपान करवाती है उतना ही ज्यादा समय मासिक धर्म को सामान्य होने में लगता है। ऐसे में आपको 6 महीने तक पीरियड्स नहीं आते है। जब आप दूध पिलाना बंद देती है तो पीरियड्स सामान्‍य रूप से आने शुरू हो जाता है।

PunjabKesari

3. ओव्‍यूलेशन ना होना
आपके ओव्‍यूलेट न करने के कारण भी आपको मासिक धर्म देरी से आ सकते है। प्रसव के बाद अण्डकोष साइकिल का असर मासिक धर्म साइकिल पर पड़ता है। जिसके कारण 1 साल तक पीरियड्स नहीं आते। ऐसा होने पर आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

PunjabKesari



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !