...इसलिए महान गायिका लता मंगेशकर ने नहीं करवाई शादी!

Sunday, June 18, 2017 11:41 AM
...इसलिए महान गायिका लता मंगेशकर ने नहीं करवाई शादी!

पंजाब केसरी(रिश्ते नाते)- देश की सबसे खूबसूरत आवाज की मल्लिका और सुर  साम्रज्ञी लता मंगेशकर के लोग दीवाने हैं। उनकी आवाज का जादू आज भी बरकरार है।उनके बारे में बात करते समय एक बार तो हर किसी के मन में यह सवाल अक्सर आता है कि अपनी आवाज के जादू से सबको मदहोश करने वाली लता जी ने शादी क्यों नहीं की। क्या वजह थी जो उन्होने घर नहीं बसाया?
 

लता जी से एक बार इस बारे में किसी इंटरव्यू में यह सवाल भी पूछा गया था और उनका कहना था कि परिवार और छोटे भाई-बहनों की जिम्मेदारी की वजह से उनको कभी इस बारे में सोचने का समय ही नहीं मिला। यह बात को सब जानते हैं कि इसके पीछे की एक वजह परिवार था लेकिन इसके पीछे की एक ओर वजह भी थी जिसे शायद ज्यादातर लोग नहीं जानते। 
 

पहला प्यार
लता मंगेशकर को अपने भाई के दोस्त को साथ प्यार हो गया था जिनका नाम राज सिंह था और वह  डूंगरपुर राजघराने के महाराजा थे। लता जी के भाई हृदयनाथ मंगेशकर और राज सिंह लॉ की पढ़ाई करने मुंबई आए। वह लता जी के घर आते और उनके भाई के साथ  क्रिकेट भी खेलते। लता जी भी  क्रिकेट  की बेहद शौकिंन थी और दोनों एक दूसरे को पसंद भी करने लगे। उस समय लता जी भी हिंदी सिनेमा का चर्चित नाम बन चुकी थी। हालांकि लता जी ने इस बारे में कभी कोई बात नहीं कि थी लेकिन मीडिया में इन दोनों के नाम के चर्चे भी शुरू हो गए थे। 


इस वजह से नहीं की शादी
दोनों एक-दूसरे को पसंद करते थे और शादी भी करना चाहते थे लेकिन राज सिंह ने अपने परिवार के साथ वादा किया था कि वो किसी आम घर की लड़की को परिवार की बहू नहीं बनाएंगे। इस कारण दोनों की शादी नहीं हुई। लता जी ने सारी जिंदगी कुंवारे रहने का फैसला किया और राज सिंह ने भी शादी नहीं की। एक वादे के कारण दोनों को एक-दूसरे से अलग रहना पड़ा। यह भी कहा जाता है कि राज सिंह लता जी को प्यार के मिट्ठू कह कर पुकारते थे और अपनी जेब में हमेशा एक टेप रिकॉर्डर रखते थे जिसमें लता जी के चुनिंदा गानों को सुना करते थे। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!