Women Care: प्रेगनेंसी में फायदेमंद Butterfly Pose, महिलाओं की 4 समस्याएं भी रहेगी दूर

punjabkesari.in Friday, Jan 14, 2022 - 02:39 PM (IST)

महिलाओं को अक्सर स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में आप बटरफ्लाई यानि तितली आसन उनके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसका अर्थ है तितली की स्थिति में बैठना। स्वस्थ रहने के लिए रोजाना तितली योग करना काफी फायदेमंद माना जाता है। यह इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ पाचन तंत्र को मजबूत करने में मदद करता है। वहीं, इससे मानसिक शांति भी मिलती है, जिससे महिलाएं तनाव और मानसिक हैल्थ प्रॉब्लम्स से बची रहती हैं। चलिए आपको बताते हैं कि तितली आसन करने का तरीका और इसके फायदे...

तितली आसन कैसे करें?

. सबसे पहले जमीन पर चटाई बिछाकर आराम की मुद्रा में बैठ जाएं। आप चाहें तो दंडासन की स्थिति में भी बैठ सकते हैं।
. अब अपने दोनों पैरों को आगे की ओर फैलाएं।
. इसके बाद धीरे-धीरे पैरों को मोड़ें और दोनों घुटनों और तलवों को आपस में मिलाएं।
. फिर हाथों की मदद से दोनों जांघों को जमीन पर टिकाकर दोनों हाथों से पैरों के तलवों को पकड़ लें।
. अपनी आंखें बंद करके ध्यान लगाएं। इसके बाद पैरों को तितली की तरह घुमाते हुए कुछ सेकेंड इसी स्थिति में रहें।
. इसके बाद वापस सामान्य मुद्रा में आ जाएं।
. इस आसन को 4-5 बार दोहराएं।

PunjabKesari

तितली आसन करने के महिलाओं के लिए फायदे
. मांसपेशियां होंगी मजबूत

इस आसन को करने से मांसपेशियों का तनाव कम होता है और उनमें मजबूती भी आती हैं। साथ ही इससे भविष्य में घुटनों के दर्द का खतरा भी कम होता है।

. कमर दर्द से छुटकारा

अक्सर महिलाएं कमर, पीठ दर्द जैसी समस्याओं से परेशान रहती हैं। ऐसे में अपनी डेली रूटीन में तितली आसन को शामिल करें। इससे शरीर में खिंचाव आता है और कमर, पीठ दर्द से राहत मिलती है।

. पीरियड्स से जुड़ी परेशानियां

इस आसन को करने से अंडाशय में रक्त के प्रवाह बढ़ाता है, जिससे अनियमित पीरियड्स की समस्या दूर होती है। साथ ही इससे पीरियड्स में तेज दर्द भी नहीं होता।

. प्रजनन अंगों को फायदा

रोजाना तितली आसन करने से प्रजनन अंगों में रक्त संचार बेहतर होता है। इससे ना सिर्फ प्रजनन शक्ति बढ़ती है बल्कि कई बीमारियों का खतरा भी दूर होता है।

. गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद

गर्भवती महिलाओं के लिए भी तितली आसन बहुत फायदेमंद होता है। इससे पेट में दर्द से आराम मिलता है। यह हिप्स, थायस और पेल्विक एरिया की एक्सरसाइज होती है, जिससे डिलीवरी आसान हो जाती है। मगर, कोई भी एक्सरसाइज करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Related News

Recommended News

static