मोल्नुपिराविर दवा को ब्रिटेन ने दी मंजूरी, कोरोना जंग में साबित होगी मददगार

punjabkesari.in Saturday, Nov 06, 2021 - 05:09 PM (IST)

कोरोना के खिलाफ जंग में ब्रिटेन ने गुरुवार को एक अहम घोषणा की है। मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी (MHRA) ने कहा कि मर्क की एंटीवायरल गोली का इस्तेमाल अब हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों के लिए किया जाएगा। इसी के साथ मर्क और रिजबैक बायोथेरेप्यूटिक्स द्वारा संयुक्त रूप से विकसित COVID 19 एंटीवायरल गोली को मंजूरी देने वाला अमेरिका दुनिया का पहला देश बन गया।

PunjabKesari

यह गोली कोरोना को जड़ से खत्म करने में काफी मददगार साबित हो सकती है। एमएचआरए ने कहा कि इसके परीक्षणों ने निष्कर्ष निकाला था कि यह "हल्के से मध्यम सीओवीआईडी ​​-19 वाले लोगों में अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु के जोखिम को कम करने में सुरक्षित और प्रभावी था, जो गंभीर बीमारी के विकास के जोखिम में हैं।"

किस उम्र के लोगों पर होगी इस्तेमाल?

हालांकि इस बात को अभी साफ नहीं किया गया कि यह गोली मार्केट में कितनी जल्दी उपलब्ध होगी। फिलहाल सर्दियों में इनसे हजारों लोगों के उपचार में मदद मिलने की उम्मीद है। इस गोली को 18 साल और इससे ज्यादा उम्र के कोरोना मरीजों पर इस्तेमाल करने की मंजूरी दी गई है। इस दवा का नाम 'मोल्नुपिराविर' है।

PunjabKesari

कैसे करेगी काम?

जिन लोगों में कोरोना के लक्षण हल्के होंगे उन्हें दिन में 2 बार यह गोली लेनी होगी। यह एंटीवायरल दवा इम्यूनिटी को बढ़ाकर कोरोना लक्षण को कम करने में मदद करेगी। इससे व्यक्ति जल्दी ठीक हो जाएगा। इस गोली को मंजूरी देने के पीछे अमेरिका का मकसद हॉस्पिटल का बोझ कम करना है। इससे लोग घर पर ही कोरोना का इलाज कर सकते हैं।

PunjabKesari

बता दें कि अभी भी अमेरिका, यूरोप और कुछ अन्य देशों इस दवा की समीक्षा कर रहे हैं, जिसे औषधि निर्माता कंपनी 'मर्क' ने बनाया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Related News

Recommended News

static