स्कॉटलैंड ने रचा इतिहास, पहला देश जहां मिलेंगे पीरियड प्रॉडक्ट्स फ्री

11/25/2020 5:45:52 PM

आज भी महिलाओं को पीरियड्स से जुड़ी बहुत सारी समस्याओं को हर दिन फेस करना पड़ता है। आज भी समाज के कुछ लोगों की सोच यही है कि महिलाएं पीरियड्स में शुद्ध नहीं होती हैं। वहीं बहुत सी महिलाएं आज भी पीरियड के समय पर कपड़े का इस्तेमाल करती है। पीरियड्स में इस्तेमाल होने वाले प्रोडक्ट्स मंहगे आते हैं जिनके कारण महिलाएं कपड़े का इस्तेमाल करती है लेकिन इससे उन्हें सेहत से जुड़ी समस्याएं हो जाती हैं। बात अगर भारत की करें तो यहां भी पीरियड्स के प्रोडक्टस खरीदने पड़ते हैं लेकिन इस संबंध में स्कॉटलैंड दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया है जहां अब पीरियड्स का सामान मुफ्त में मिलेगा। 

कायम की मिसाल 

स्कॉटलैंड ने इस कदम को उठाकर एक नई मिसाल पेश कर दी है और यहां अब महिलाओं को पीरियड में इस्तेमाल होने वाले सारे प्रोडक्ट फ्री में मिलेंगे। स्कॉटिश पार्लियामेंट ने पीरियड्स प्रोडक्ट्स को लेकर एक बिल पास किया है। देश में एकमत के साथ पीरियड प्रॉडक्ट (फ्री प्रोविजन) (स्कॉटलैंड) ऐक्ट पारित कर दिया गया। और अब इस कानून के पारित होने के बाद स्थानीय प्रशासन सभी महिलाओं को पीरियड से जुड़े और उस समय इस्तेमाल होने वाले प्रॉडक्ट्स को मुफ्त में देगा। आपको ये भी बता दें कि इस नियम को नॉर्थ आयरशायर जैसी काउंसिल के पहले से किए जा रहे काम जोड़ा जाएगा। खबरें हैं कि यहां 2018 से ही फ्री टैंपॉन और सैनिटरी टाल सार्वजनिक इमारतों में दिए जा रहे हैं।

वहीं इस अभियान को शुरू और इसका नेतृत्व करने वाली स्कॉटिश लेबर की स्वास्थ्य प्रवक्ता मोनिका लेनन ने इस दिन को गर्व का दिन बताया है। अपनी ख़ुशी जाहिर करते हुए लेनन ने कहा, ' यह उन सभी महिलाओं और लड़कियों की जिंदगी में एक बड़ा बदलाव लाएगा जिन्हें पीरियड के समय इन चीजों का मोहताज होना पड़ता था। सामुदायिक स्तर पर पहले ही काफी विकास हुआ है और स्थानिय प्रशासन के जरिए हर किसी को पीरियड में सम्मान मिल सकेगा।'

कुछ साल पहले इस पर बात नहीं होती थी 

लेनन का कहना यह भी है कि अब इस मुद्दे पर सार्वजनिक तौर पर चर्चा होने लगी है और यह एक बड़ा बदलाव है। कुछ साल पहले तक होलीरुड चेंबर में खुले तौर पर पीरियड पर बात नहीं होती थी और अब यह मुख्यधारा में है। आपको ये भी बता दें कि यह विधेयक स्कॉटिश संसद सदस्य मोनिका लेनन द्वारा पेश किया गया जो 2016 के बाद से पीरियड्स पॉवर्टी को समाप्त करने के लिए अभियान चला रही हैं। 


Janvi Bithal

Recommended News