Diet Tips: क्या थायराइड मरीजों को खाने चाहिए चावल?

2021-09-24T10:06:10.787

भारतीय लोग डिनर या लंच में दाल-चावल खाना खूब पसंद करते हैं। कुछ लोगों को चावल के बिना पेट भरा हुआ ही नहीं लगता। मगर, थायराइड में वजन कंट्रोल करना सबसे जरूरी होती है जबकि चावल में कैलोरी अधिक होती है, जिससे थायराइड और ब्‍लड शुगर लेवल में बदलाव आता है। ऐसे में थायराइड मरीज इस बात को लेकर कन्फ्यूज रहते हैं कि उन्हें चावल खाने चाहिए या नहीं। चलिए जानते हैं इसपर एक्सपर्ट की क्या राय है?

क्या है थायराइड ?

थायराइड एक एंडोक्राइन ग्लैंड जो गले में बटरफ्लाई के आकार का होता है। इससे थायराइड हार्मोन निकलता है जो शरीर में मेटाबॉलिज्म को सही लेवल में रखता हैं लेकिन जब यह हार्मोंन असंतुलित हो जाता है तो यह समस्या शुरु होने लगती है।

PunjabKesari

क्‍या थायराइड में चावल खाना चाह‍िए?

एक्सपर्ट की मानें तो थायराइड मरीजों को चावल ब‍िल्‍कुल नहीं खाना चाह‍िए। इसमें चावल में ग्‍लूटेन प्रोटीन होता है जो एंटीबॉडीज को कम देता है । वहीं इससे थायरॉक्‍स‍िन हार्मोन भी असंतुलित हो जाते हैं, जिससे थायराइड की समस्या बढ़ सकती है।

थायराइड में चावल क्‍यों नुकसानदायक है?

1. चावल में मौजूद स्टार्च जल्दी पच जाता है जिससे भूख ज्यादा लगती है। वहीं वसा शरीर में फैट बढ़ाती है, जिससे वजन कम करना मुश्किल हो जाता है।
2. कॉर्बोहाइड्रेट कम और कैलोरीज ज्‍यादा होने के कारण भी थायराइड मरीजों को इससे दूर रहना चाहिए। इससे थायराइड के साथ टाइप-2 डायब‍िटीज और स्‍ट्रोक का खतरा भी काफी बढ़ जाता है।
3. वहीं, लंबे समय तक चावल खाने से थायराइड मरीजों में ब्‍लड शुगर और ब्‍लड प्रेशर की समस्या भी देखने को मिलती है।

PunjabKesari

रोटी चावल से ज्‍यादा हेल्‍दी होती है (Roti vs Rice)

चावल की बजाए थायराइड मरीज अपनी डाइट में गेंहू, बाजरे से बनी रोटी को अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। इसमें चावल के मुकाबले ज्यादा फॉस्‍फोरस, कैल्शियम, आयरन और पोटैश‍ियम होता है। वहीं, रोटी में  माइक्रोन्‍यूट्र‍िएंट्स और फाइबर भी चावल के मुकाबले अधिक होता है।

थायराइड में चावल खाते समय ये सावधान‍ियां बरतें

चावल खाने के शौकीन हैं तो इन सावधान‍ियों को बरतकर आप चावल खा सकते हैं...

. डाइट में सफेद नहीं, ब्राउन राइस या रेड राइस शामिल करें।
. जीरा राइस या सादे चावल की बजाए पुलाव बनाकर खाएं, जिससे चावल की मात्रा कम और सब्‍ज‍ियां ज्यादा हो।
. अगर आप सादे चावल खाने है तो उसके साथ राजमा, छोले, मटर, प्रोटीन युक्‍त सब्‍ज‍ियां खाएं।
. सादे चावल बनाते समय उसमें 1 चम्‍मच नार‍ियल तेल म‍िला दें। फिर उसे फ्र‍िज में ठंडा करके खाएं। इससे चावल का स्टार्च शरीर में जाकर फाइबर का काम करेगा और इससे कैलोरी की मात्रा भी घट जाएगी।

PunjabKesari

इन फूड्स से भी करें परहेज

सिर्फ चावल ही नहीं, थायराइड मरीजों को पत्ता गोभी, ब्रोकली, सोया फूड्स, चाय-कॉफी, शराब-सिगरेट, गेहूं, ब्रेड, पास्ता और आलू जैसे फूड्स भी नहीं खाने चाहिए। इससे आपकी दिक्कतें बढ़ सकती हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Recommended News

static