शरीर को अंदर से स्वस्थ रखेंगी ये आयुर्वेदिक हर्ब्स, आस-पास भी नहीं फटकेगी बीमारी

2021-06-17T16:59:47.703

आयुर्वेद दुनिया की सबसे पुरानी चिकित्सा प्रणाली में से एक है। सदियों से, आयुर्वेद जड़ी बूटियों का उपयोग स्वास्थ्य में सुधार के लिए किया जाता रहा है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही आयुर्वेदिक हर्ब्स के बारे में बताएंगे, जो बॉडी को डिटॉक्स करने के साथ आपको स्वस्थ भी रखेंगे।

अश्वगंधा

अश्वगंधा बेहतर प्रजनन कार्य व नींद, हार्मोन्स बैलेंस, हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करती है। साथ ही इससे बाल भी मजबूत व शाइनी होते हैं।

PunjabKesari

हल्दी

एंटीबैक्टीरियल हल्दी इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार है। साथ ही यह ब्लड सर्कुलेशन, ब्रेन फंक्शन और डाइजेशन सिस्टम को भी सही रखने में फायदेमंद है।

दालचीनी

भोजन में स्वाद बढ़ाने के अलावा दालचीनी दिल, डाइजेशन सिस्टम, फेफड़ों को स्वस्थ रखने में फायदेमंद है। आप इसकी चाय बनाकर भी पी सकते हैं।

हरी इलायची

गर्म पानी के साथ 2 इलायची खाकर सोने से नींद अच्छी आती है और पाचन तंत्र भी सही रहता है। इसके अलावा हरी इलायची श्वसन क्रिया, ओरल हेल्थ और किडनी को डिटॉक्स करने के मददगार है।

तुलसी

रोजाना 3-4 तुलसी की पत्तियां चबाने या काढ़ा पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है, जो कोरोना काल में फायदेमंद भी है। इसके अलावा इलायची लिवर डिटॉक्स, ग्लोइंग स्किन व नर्वस सिस्टम को सही रखती है।

PunjabKesari

जीरा

भोजन में जीरा डालकर खाने के साथ आपकी इसकी ड्रिंक बनाकर भी पी सकते हैं। इससे ब्लड सर्कुलेशन बड़ता है और ब्रेन, डाइजेशन व लिवर की बीमारियां दूर रहती हैं।

नीम

नीम के औषधीए गुण लिवर, किडनी व फेफड़ों को डिटॉक्स करते हैं। साथ ही नीं बालों व स्किन के लिए भी फायदेमंद है। नीम की दातुन दांतों को स्वस्थ रखने में भी मदद करती है।

केसर

रोजाना 1 गिलास केसर वाला दूध पीने से मेटाबॉलिज्म बूस्ट और इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। साथ ही इससे स्किन भी ग्लो करती है।

आंवला

आंवला जूस, मुरब्बा या पाउडर रोजाना लेने से ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है। यह लिवर को डिटॉक्स भी करता है, जिससे आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं।

PunjabKesari

ब्राह्मी

गर्मियों में ब्राह्मी जूस पीने से शरीर अंदर से गर्म रहता है। यह दिमाग को तेज करने के लिए भी बेस्ट टॉनिक है।

मोरिंगा

मोरिंगा में प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, विटामिन ए और सी होता है। इसकी सब्जी या पाउडर डाइट में लेने से कई बीमारियां दूर रहती हैं।

मुलेठी

आयुर्वेदिक औषधि गुणों से भरपूर मुलेठी में ग्लिसराइजिक एसिड, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक होता है। यह श्वसन व पाचन क्रिया, सर्दी-खांसी, जुकाम, कफ, गले और यूरिन इंफैक्शन के लिए रामबाण इलाज है।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Recommended News

static