एंटीलिया बम मामले में गिरफ्तार हुए दो लोगों को कोर्ट ने 21 जून तक NIA की हिरासत में भेजा

2021-06-15T15:18:37.74

एंटीलिया बम मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दो व्यक्तियों संतोष आत्माराम शेलार और आनंद पांडुरंग जाधव को गिरफ्तार किया है, जो मुंबई के मलाड के कुरार गांव के निवासी हैं। बतां दें कि एनआईए इन दोनों को  एंटीलिया बम की आशंका और मनसुख हिरन के व्यवसायी की हत्या की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है। वहीं  इन दोनों को आज अदालत में पेश किया गया और 21 जून तक एनआईए की हिरासत में भेज दिया गया।
 

मुकेश अंबानी के घर के पास मिली थी विस्फोटकों से लदी एक एसयूवी
बतां दें कि मुंबई की एक विशेष अदालत ने उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के पास मिली विस्फोटकों से लदी एक एसयूवी और उसके बाद कारोबारी मनसुख हिरन की हत्या के मामले में एनआईए को चार्जशीट दाखिल करने के लिए पिछले हफ्ते 60 दिनों का समय दिया था। चार्जशीट दाखिल करने की समय सीमा 10 जून को समाप्त होनी थी।

PunjabKesari

तीन अन्य पूर्व पुलिसकर्मी भी शामिल है -
13 मार्च को गिरफ्तार पूर्व पुलिस अधिकारी सचिन वाजे इस मामले में मुख्य आरोपी हैं। वाजे के अलावा, तीन अन्य पूर्व पुलिसकर्मी – रियाज़ुद्दीन काज़ी, सुनील माने, विनायक शिंदे और एक सट्टेबाज नरेश गोर भी मामले में आरोपी हैं।

PunjabKesari

गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के प्रावधानों के तहत, जांच एजेंसी आरोप पत्र जमा करने के लिए आरोपी की गिरफ्तारी के दिन से कुल 180 दिनों तक का समय मांग सकती है। 

गौरतलब है कि 25 फरवरी 2021, को दक्षिण मुंबई में अंबानी के बहुमंजिला आवास ‘एंटीलिया’ के पास विस्फोटकों से लदी एक 
कार बरामद हुई थी। ठाणे के एक व्यवसायी हिरन 5 मार्च को एक नाले में मृत पाए गए थे। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Recommended News

static