तालिबान से बचकर भागी 100 महिला फुटबॉल खिलाड़ी, Fifa की मदद से अफगानिस्तान पहुंची दोहा

2021-10-15T13:11:27.973

अफगानिस्तान में महिलाओं का भविष्य संकट में है। तालिबान की दमनकारी नीति से बचने के लिए  नेशनल फुटबॉल टीम के सदस्यों समेत 100 महिला फुटबॉल खिलाड़ियों को अफगानिस्तान से निकाला लिया गया है। इसमें  कम से कम 20 राष्ट्रीय महिला टीम फुटबॉल खिलाड़ी शामिल हैं।

PunjabKesari
सभी को लाया गया दोहा

कतर की सरकार ने बताया कि अफगानिस्तान से महिला फुटबॉल खिलाड़ियों के एक दल को  एक विमान के जरिए दोहा लाया गया। कतर के सहायक विदेश मंत्री लोलवाह अल-खतर ने एक ट्वीट में कहा कि महिला खिलाड़ियों सहित लगभग 100 फुटबॉल खिलाड़ी और उनके परिवार बोर्ड में हैं। 

PunjabKesari
फीफा की मदद से खिलाड़ियों को निकाला बाहर 

खिलाड़ियों की निकासी के लिए कतर ने फीफा के साथ मिलकर काम किया। इससे पहले, अंतरराष्ट्रीय संघ फीफाप्रो ने अगस्त में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय महिला टीम की खिलाड़ियों की निकासी में भी मदद की थी। अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से महिला खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त की जा रही थी।

PunjabKesari
खिलाड़ियों को दी गई थी सोशल मीडिया अकाउंट्स हटाने की सलाह 

याद हो कि अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद अफ़ग़ान महिला फ़ुटबॉल टीम की पूर्व कप्तान, खालिदा पोपल ने अफगानिस्तान में खिलाड़ियों से अपने स्पोर्ट्स गियर को जलाने और तालिबान शासन के प्रतिशोध से बचने के लिए अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स को हटाने का आग्रह किया था।

PunjabKesari

टूट चुकी है महिला खिलाडी 

खालिदा ने  अफगानिस्तान की यंग महिलाओं से कहा था कि  उन्हें सोशल मीडिया प्रोफाइल डिलीट कर देनी चाहिए। खालिदा ने कहा था कि वे हमेशा से ही यंग महिलाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती रही हैं और हमेशा उन्हें हिम्मत बंधाती रही हैं लेकिन तालिबान के राज आने के बाद मैं टूट गई हूं।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Related News

Recommended News

static