पूजाघर की इस दिशा में भूलकर भी न रखें दीपक, घर में आ सकती है कंगाली

punjabkesari.in Thursday, Jun 16, 2022 - 06:29 PM (IST)

वास्तु शास्त्र का व्यक्ति के जीवन पर बहुत ही गहरा प्रभाव पड़ता है। यदि आप अपने कार्य वास्तु के मुताबिक करते हैं तो आपको जीवन में कई तरह के बदलाव आ सकते हैं। कई लोग वास्तु में बहुत विश्वास करते हैं, घर के सारे काम वास्तु के अनुसार, ही करते हैं। इसके विपरीत कई लोग वास्तु शास्त्र में बिल्कुल भी विश्वास नहीं करते, जिसके कारण उन्हें जीवन में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। घर में मंदिर बहुत ही पवित्र माना जाता है। मंदिर में जलने वाला दीपक भी बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। दीपक की लौ किस तरफ है वास्तु के अनुसार, इस बात से भी घर की सुख-शांति पर बहुत ही प्रभाव पड़ता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में...

PunjabKesari

पूर्व दिशा में जलाएं लौ 

वास्तु शास्त्र के अनुसार, यदि पूजा घर की पूर्व दिशा में लौ जलाई जाए तो वो बहुत ही शुभ होती है। इस दिशा में दीपक जलाने वाले व्यक्ति की उम्र लंबी होती है। 

दक्षिण दिशा में न जलाएं लौ

पूजाघर की दक्षिण दिशा में भूलकर भी लौ नहीं जलानी चाहिए। मान्यता है कि इस दिशा में दीपक जलाने से घर में पैसे की कमी हो सकती हैं, क्योंकि दक्षिण दिशा यमराज की मानी जाती है। 

PunjabKesari

पश्चिम दिशा में जलाएं लौ

यदि आप जीवन में बहुत सी परेशानियों का सामना कर रहे हैं तो आप पूजा घर की पश्चिम दिशा में दीपक की लौ जलाएं। वास्तु के अनुसार, यह दिशा बहुत ही शुभ मानी जाती है। इसके अलावा  यदि आप जीवन में किसी भी प्रकार के दुख से गुजर रहे हैं तो इस दिशा में दीपक जरुर जगाएं। 

उत्तर-दिशा में जलाएं लौ 

वास्तु शास्त्र के अनुसार, उत्तर-दिशा में दीपक की लौ जलाना बहुत ही शुभ माना जाता है। मान्यता है कि इस दिशा में लौ जलाने से आपको धन लाभ हो सकता है। 

Buy Traditional Deepak Oil Lamp (Brass) Online in India - Mypoojabox.in


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

Related News

Recommended News

static