इस देश की महिलाओं में बढ़ती अनचाही Pregnancy के खिलाफ सरकार ने छेड़ी क्रांति

punjabkesari.in Sunday, Dec 11, 2022 - 02:07 PM (IST)

यूरोप के फ्रांस में 18 से 25 साल कि कई लड़कियों अनचाही प्रेग्नेंसी और यौन संचारित रोग को लेकर परेशान हैं। ये मामले इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को दखल देनी पड़ी है। अब सुरक्षित शारीरिक संबधं बनाने को बढ़ावा देने के लिए और कम उम्र में प्रेग्नंसी के खतरे को कम करने के लिए यहां के स्कूलों में फ्री कंडोम वेंडिंग मशीनें तक लगानी पड़ी हैं।

PunjabKesari

पूरे देश में फ्री कंडोम

फ्रांस के मीडिया के हवाले से प्रकाशित खबरों की माने तो मैक्रों के आदेश पर अमल शुरु हो चुका है। मैक्रो ने कहा कि उनका देश रुढ़ियों से नहीं बंधा है। एक आजाद ख्याल देश में सभी का ख्याल रखना सरकार की जिम्मेदार है। मैक्रो ने कहा '18 से 25 साल के सभी युवाओं को सरकार फार्मेसियों के जरिए फ्री में कंडोम मुहैया कराएगी। ये दरअसल अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए एक छोटी सी क्रांति है'। फ्रांस की मैक्रों सरकार ने इसी साल से 25 साल से कम उम्र की सभी महिलाओं के लिए मुफ्त बर्थ कंट्रोल की पेशकश शुरु करने के बाद ये कदम उठाया है।

PunjabKesari

यौन शिक्षा को बढ़ावा देने का ऐलान

मैक्रो का कहना है, 'शारीरिक संबंध के बारे में स्कुलों में जागरुकता फैलाई गई , लेकिन नतीजे बहुत अच्छे नहीं है। हालात और हकीकत इससे काफी अलग है। ये ऐसा क्षेत्र है जहां पर हमें अपने शिक्षकों को शिक्षित करने के लिए कुछ बेहतर प्रयोग करने की जरुरत है। मैं भी हेल्थ डिपार्टमेंट की गाइडलाइंस का पालन करता हूं। इसलिए देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए मास्क लगा रहा हूं'।

PunjabKesari

आपको बता दें कि कई सारी युवा लड़कियां अनचाही प्रेग्नेंसी से घिर जाती है और उन्हें समझ नहीं आता कि क्या करें या किस तरह से इससे बाहर निकलें। साथ ही पहले या दूसरे हफ्ते में कुछ महिलाएं गर्भपात करवाने की सोचती हैं लेकिन इसके तरीके या विकल्प के बारे में पता नहीं होता है। फ्रांस में इस फ्री कंडोम के लिए फंड पहले से ही फ्रांस की नेशनल हेल्थ स्कीम की तरफ से दिया जाता है, हालांकि अभी तक ये उनको मुफ्त मिलता था जिसे डॉक्टर इसके इस्तेमाल करने की सलाह देते थे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Charanjeet Kaur

static