वजन कम करने के लिए नाश्ते में शामिल करें पोहा, जाने इसे खाने के अनेक फायदे

punjabkesari.in Thursday, Nov 24, 2022 - 01:07 PM (IST)

हेल्दी डाइट की बात करें तो सुबह का नाश्ता  खास महत्त्व रखता है। कहा जाता है कि सुबह का नाश्ता भर पेट करना चाहिए। नाश्ते में लोग जहां ब्रेड-बटर, पकौड़े, सैंडविच खाना चाहते हैं तो कभी-कभी पोहा को भी नाश्ते में शामिल कर लेते हैं। जबकि नाश्ते में पोहा रोज़ाना न सही पर कम से कम सप्ताह में दो -चार बार तो खाना ही चाहिए। अब आप सोच रहे होंगे ऐसा क्यों? तो बता दें कि पोहा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसको खाने से सेहत को कई फायदे मिलते हैं, आइए जानते हैं कि नाश्ते में पोहा क्यों खाना चाहिए।

PunjabKesari

एनर्जी मिलती है

सुबह के नाश्ते में पोहा खाने से बॉडी को एनर्जी मिलती है जो आपको एक्टिव रखने में मदद करती है। पोहे में काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स पाया जाता है जो बॉडी को एनर्जी देने का काम करता है। इससे आपका पेट भी काफी देर तक भरा रहता है।

आयरन की कमी पूरी होती है

नाश्ते में पोहा खाने से शरीर में आयरन की कमी पूरी होती है.जिन लोगों के शरीर में खून कम बनता है उनको नाश्ते में पोहा शामिल करना चाहिए। दरअसल पोहा में आयरन के गुण पाए जाते हैं। जो शरीर में खून की कमी को पूरा करने में मदद करते हैं।

PunjabKesari

घटाता है वजन

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो पोहा खाएं, इससे आसानी से वजन कम हो सकता है। इसमें मिलने वाला फाइबर आपको लंबे समय तक भूख का अहसास नहीं होने देते और इससे पेट भरा-भरा लगता है।

गैस-अपच की दिक्कत नहीं होती

ऑयली नाश्ता करने से अकसर पेट में अपच-गैस की दिक्कत हो जाती है। जबकि सुबह के नाश्ते में पोहा को शामिल करने से पाचन, गैस और अपच जैसी दिक्कत नहीं होती है। साथ ही कब्ज़ की दिक्कत भी कम होने लगती है। इसको खाने से पेट में भारीपन भी नहीं लगता है।

PunjabKesari

ब्लड शुगर कंट्रोल रहता

पोहा में हाई फाइबर और आयरन पाया जाता है। इसके सेवन से ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। डाइबिटीज के मरीजों के लिए पोहा एक बेहतर नाश्ता हो सकता है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Charanjeet Kaur

Related News

Recommended News

static