मिलिए Anna Elizabeth से, जिन्होंने बनाई दुनिया की पहली Edible Saree

2021-10-18T17:49:27.74

जहां चाह वहां राह... यह कहावत अन्ना एलिजाबेथ जॉर्ज पर बिल्कुल सही बैठती हैं। केरल, कोल्लम की रहने वाली अन्ना, जो एक होम बेकर, फैशन डिजाइनर और फ्लोरिस्ट है हमेशा ही कुछ ना कुछ नया करती हैं। वह हर साल ओणम पर कुछ ना कुछ अनोखा बनाती हैं। वहीं, इस बार ओणम फेस्टिवल सेलिब्रेशन के लिए एक अनोखी साड़ी डिजाइन की, जो सोशल मीडिय पर चर्चा का विषय बन गई है। 

PunjabKesari

PunjabKesari

कौन है Anna Elizabeth?

इस बार उन्होंने अपनी किचन में एक एडिबल साड़ी (Edible Saree) बनाई, जो दुनिया की पहली एडिबल रियल साइज साड़ी है। इसमें केरल की अनूठी संस्कृति और विरासत शामिल है जो पारंपरिक कसावु साड़ी से मिलती जुलती है। इसके लिए किसी भी फैंसी गैजेट या खाना पकाने के स्टूडियो का यूज नहीं हुआ। इस साड़ी बनाने में लगभग एक हफ्ता लग गया, जिसके लिए करीब 30 हजार रुपए का खर्च आया। हालांकि ग्राहकों के लिए इस तरह के पीस की शुरुआती रेंज 10000 रुपए से शुरू होगी।

बेस्ड वेफर पेपर से हुई तैयार

इसे बनाने के लिए स्टार्च बेस्ड वेफर पेपर का यूज किया गया है, जो आलू और चावल के स्टार्च से बनता है। इस साड़ी का वजन 2 किग्रा है, जिसके ऊपर गोल्डन लस्टर डस्ट डालकर ट्रेडिशनल लुक दिया गया है। वेफर पेपर A4 शीट के आकार को मापते हुए इस साड़ी को तैयार किया है, जिसमें लंबाई (5.5 मीटर फीट) के हिसाब से लगभग 100 शीट का उपयोग किया गया था।

PunjabKesari

पूरा किया पुराना सपना

कुकिंग में एक्सपर्ट अन्ना को एडिबल डिजाइनिंग के लिए जाना जाता है, जिन्होंने कैंसर और न्यूरोलॉजिस्ट में पीएचडी हैं। वह हमेशा से ही ऐसी साड़ी बनाना चाहती थी इसलिए अपने पढ़ाई पूरी करने के बाद वह अपने सपने को सच करने में लग गई और आज उन्होंने अपना सपना साकार भी कर लिया।

PunjabKesari

नाना को देती हैं श्रेय

इस पूरे प्रोजेक्ट की क्रिएशन का श्रेय वह अपने नाना को देती हैं, जिनसे उन्होंने बेकिंग के गुण सीखे। वह बचपन से ही अपने नाना के साथ रह रही हैं लेकिन तीन दशक पहले उनका निधन हो गया था। वह जैकब फ्लोरल्स और जैकब बेक्स नाम से अपना फ्लोरल और बेकिंग वेंचर भी चलाती है, जिसका नाम उसने अपने नाना की याद में रखा है।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Related News

Recommended News

static