कहीं Dandruff तो नहीं आपके बाल झड़ने की वजह?

2021-06-16T16:36:56.383

प्रदूषण और गलत रूटीन के कारण डैंड्रफ की समस्या आजकल आम हो गई है। स्कैल्प से गिरने वाले सफेद गुच्छे कंधों पर जमा हो जाते है जो देखने में खराब लगते हैं। वहीं, कई बार इसके कारण स्कैल्प पर सूजन, लगातार खुजली और खरोंच भी हो सकती है लेकिन क्या इससे बाल भी झड़ेंगे? अपनी इस पोस्ट में, हम डैंड्रफ के कारणों और बालों के झड़ने के साथ इसके संबंध के बारे में बताएंगे।

दो तरह के होते हैं डैंड्रफ

1. पहला माइल्ड डैंड्रफ, जो ड्राई स्कैल्प या मलसेजिया फंगस का का कारण बन सकता है। हल्के रूसी गलत डाइट, हेयर प्रोडक्ट्स, प्रदूषण, हीटिंग टूल्स और पराबैंगनी किरणों से हो सकता है।

2. गंभीर रूसी, यीस्ट संक्रमण और हार्मोनल परिवर्तनों के कारण हो सकती है। यह यीस्ट सीबम को फीड करता है, जिससे डैंड्रफ अधिक होने लगता है। यह ज्यादातर आनुवांशिक होता है।

PunjabKesari

क्या डैंड्रफ से बाल झड़ सकते हैं?

आमतौर पर रूसी सीधे बाल झड़ने का कारण नहीं बनती लेकिन रूसी की वजह से होने वाली कुछ समस्याएं बालों को कमजोर बना देती हैं जैसे...

1. डैंड्रफ के कारण होने वाली जलन और खुजली बालों के रोम को नष्ट कर देती है और बालों के झड़ने का कारण बन सकती है।
2. जलन से राहत पाने के लिए कुछ लोग जोर से कंघी करते हैं, जिससे बाल झड़ सकते हैं।
3. अनियमित शैंपू करने से रोम छिद्र बंद हो जाते हैं और डैंड्रफ की समस्या बढ़ जाती है। ऐसे में बाल भी झड़ सकते हैं। साथ ही इससे नए बाल आना भी बंद हो जाते हैं।
4. कमजोर इम्यूनिटी भी रूसी और बालों के झड़ने की संभावना को बढ़ा सकती है।

डैंड्रफ और बाल झड़ने का कारण

. एंड्रोजेनिक एलोपेसिया:
. स्कैल्प सोरायसिस
. स्कैल्प रिंग वर्म
. फंगल इन्फेक्शन
. सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस

इसके अलावा गलत डाइट, प्रदूषण, हीटिंग टूल्स का अधिक इस्तेमाल, बालों की ठीक से केयर ना करना भी डैंड्रफ के साथ हेयरफॉल का कारण बन सकते हैं।

PunjabKesari

चलिए अब आपको बताते हैं डैंड्रफ और हेयरफॉल को रोकने के लिए घरेलू टिप्स...

स्कैल्प को हाइड्रेट करें

रूसी और झड़ते बालों से छुटकारा पाने के लिए नारियल तेल से मसाज करें। यह स्कैल्प को हाइड्रेट और मॉइश्चराइज्ड करता है, जिससे यह समस्या नहीं होती।

स्ट्रेस ट्रिगर्स को खत्म करें

स्ट्रेस से इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, जो डैंड्रफ का कारण बन सकता है। ऐसे में अपने तनाव को कम करने के लिए योग, ध्यान और प्राणायाम का अभ्यास करें।

स्वस्थ आहार अपनाएं

डाइट में जिंक, जिंक, विटामिन बी, सेलेनियम, बायोटिन, फोलिक एसिड, विटामिन डी, विटामिन ए, अमीनो एसिड और, प्रोटीन और हैल्दी फैट से भरपूर आहार लें। ये बालों और स्कैल्प के स्वास्थ्य को बढ़ावा देंगे। साथ ही मसालेदार, तैलीय, नमकीन और मीठे फूड्स का अधिक सेवन ना करें।

PunjabKesari

हेयर स्टाइलिंग से बनाएं दूरी

बालों के कुछ प्रोडक्ट्स में ब्लीच, डिटर्जेंट या फॉर्मल्डेहाइड होता है, जो स्कैल्प इंफेक्शन का खतरा बढ़ा देता है इसलिए उनसे दूरी बनाएं। साथ ही नियमित शैंपू व कंडीशनर भी करते रहें।

होममेड हेयर मास्क लगाएं

इसके लिए 3 चम्मच शहद और 1 भाग नींबू का रस मिलाकर 20 से 30 मिनट तक स्कैल्प पर लगाएं। इसके बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। हफ्ते में 1 बार ऐसा करने से डैंड्रफ व बाल झड़ने की समस्या दूर हो जाएगी।

नीम का तेल

नीम का तेल भी रूसी को कम करने में मदद करता है। इससे सिर की मालिश करके रातभर के लिए छोड़ दें। सुबह माइल्ड शैंपू से बालों को धो लें। आप चाहे तो नीम पाउडर को पैक की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

आंवला पाउडर पैक

नीम पाउडर, रीठा पाउडर, शिकाकाई पाउडर और सूखा आंवला पाउडर बराबर मात्रा में मिलाएं। इस पेस्ट को 60 मिनट तक स्कैल्प पर लगाएं और फिर माइल्ड शैंपू से धो लें।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Recommended News

static