वेज मीट से फेमस है यह सब्जी, नॉन वेज फूड के गुणों से भरपूर

punjabkesari.in Tuesday, Aug 25, 2020 - 12:42 PM (IST)

जैकफ्रूट हिंदी भाषा में कटहल के नाम से जाना जाता है। इसका फल और सब्जी दोनों ही रूपों में सेवन किया जा सकता है। खासतौर पर गर्मी के मौसम में इसके सेवन से शरीर में इम्यून सिस्टम मजबूत होने में मदद मिलती है। ऐसे में मौसमी वायरल होने का खतरा कई गुणा कम हो जाता है। जैसे कि सभी जानते ही हैं कि इन दिनों दुनिया भर में कोरोना वायरस तेजी से सभी को अपनी चपेट में ले रहा है। इससे बचने के लिए सभी को इम्यूनिटी बूस्ट करने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में कटहल का सेवन करना बेस्ट माना जाता है।
 

कटहल को क्यों कहते हैं वेज-मीट?

बहुत से लोग इस बात को सोच रहें होंगे कि आखिर कटहल को वेज- मीट के नाम से क्यों जाना जाता है? असल में, कटहल में वे सभी जरूरी तत्व पाएं जो डेयरी प्रोडक्ट्स और नॉन- वेज में होते हैं। साथ ही यह दिखने और स्वाद में भी कुछ हद तक नॉनवेज की तरह लगती है। इसके अलावा इसमें भरपूर प्रोटीन,कैल्यिशम, आयरन, विटामिन, अमीनो एसिड सभी तत्व उचित मात्रा में होने से इसे वेज-मीट कहा जाता है। ऐसे में इसके सेवन से वे सभी जरूरी तत्व मिल जाते हैं जो नॉन वेज खाना खाने से मिलते हैं। 


तो चलिए जानते हैं इससे मिलने वाले अन्य फायदों के बारे में...

विटामिन और मिनरल्स से भरपूर 

कटहल में विटामिन-ए, बी 6, सी, कैल्शियम, फाइबर, आयरन, पोटैशियम, फोलिक एसिड आदि पोषक तत्व भारी मात्रा में पाएं जाते हैं। ऐसे में इसके सेवन से आंखों की रोशनी तेज होने के साथ इम्यूनिटी बढ़ने में मदद मिलती है। 

nari,PunjabKesari

एनर्जी लेवल करे बूस्ट

जिन लोगों को जल्दी ही थकावट हो जाती है। उन्हें अपनी डाइट में कटहल का फल या सब्जी जरूर शामिल करनी चाहिए। नियमित रूप से इसका सेवन करने से शरीर में एनर्जी लेवल बूस्ट होने में मदद मिलती है। 

पेट के लिए फायदेमंद 

इसमें फाइबर प्रचूर मात्रा में होने से पेट से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। पाचन क्रिया बेहतर होती है। ऐसे में कब्ज, एसिडिटी, पेट दर्द आदि की परेशानी दूर होती है। 

संक्रमण से बचाए

इसमें सभी विटामिन, मिनरल्स, एंटी- ऑक्सीडेंट,एंटी- बैक्टीरियल गुण होने से मौसमी सर्दी, जुकाम, बुखार, फ्लू, कोरोना वायरस आदि होने के खतरे से बचाव रहता है। इसमें मौजूद एंटी- ऑक्सीडेंट तत्व शरीर में पाए जाने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने वाले सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करते हैं। 

nari,PunjabKesari

डेंगू , मलेरिया के खतरे को करे कम

कटहल के सेवन से इम्यूनिटी स्ट्रांग होने में मदद मिलती है। ऐसे में डेंगू, मलेरिया, फ्लू होने का खतरा कई गुणा कम हो जाता है। इसलिए एक्सपर्ट्स द्वारा भी कटहल को फल या सब्जी के रूप में अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है। 

आंखों की रोशनी बढ़ाए

सभी जरूरी तत्वों से भरपूर कटहल का सेवन करने से यह आंखों की आर्टरी को संकुचित होने से रोकता है। साथ ही आंखों की रोशनी बढ़ने में मदद करता है। 

दिल के लिए फायदेमंद 

इसमें सभी उचित तत्वों के साथ अधिक मात्रा में अमीनो एसिड मौजूद होता है। ऐसे में यह दिल की सेहत को बरकरार रखने में मदद करता है। इसतरह इसके सेवन से हार्ट अटैक और दिल से जुड़ी अन्य बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है। 

nari,PunjabKesari

स्किन दिखे जवां

यह सब्जी या फल सेहत के साथ-साथ त्वचा के लिए भी फायदेमंद मानी गई है। इसमें मौजूद विटामिन- सी बॉडी में कोलेजन के उत्पादन में मदद करता है। इससे स्किन पर ग्लो आने के साथ जवां नजर आती है। यह कोलेजन हमारी स्किन को युवा बनाए रखने के लिए जरूरी होता है। साथ ही विटमिन-ए हमारी आंखों की आर्टरी को संकुचन से रोकता है। इससे हमारी आंखों की रोशनी बुढ़ापे में भी सही बनी रहती है।

 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

neetu

Related News

Recommended News

static