फ्रिज-एसी साफ तो Black Fungus का नहीं कोई खतरा, जानिए इस वायरल मैसेज का सच

2021-06-11T10:30:13.573

कोरोना वायरस के बाद अब देश में ब्लैक फंगस का कहर बढ़ता जा रहा है। वहीं, फर्जी खबर और अफवाहें लोगों के डर को बढ़ावा दे रही हैं। हाल ही में सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि प्याज पर जमा होने वाली काली फफूंद ही ब्लैक फंगस है जो आपको बीमार कर सकती है। वायरल पोस्ट में कहा गया है कि प्याज को फ्रिज में स्टोर करते सावधान रहना चाहिए। चलिए आपको बताते हैं कि इसपर एक्सपर्ट की क्या है राय...

क्या सचमुच प्याज से फैल रहा ब्लैक फंगस?

दरअसल, अक्सर प्याज के बाहरी हिस्से पर काला फफूंद लगा होता है, जो ब्लैक फंगल का कारण बन सकता है। ऐसे में किसी भी खाद्य पदार्थ पर लगे काले फंगस से लोगों को बचने की सलाह दी जा रही है जबकि एक्सपर्ट की मानें तो ऐसा कुछ नहीं है।

PunjabKesari

फ्रिज की काली रबर को भी बताया फंगस का कारण

पोस्ट में यह भी दावा किया गया है कि रेफ्रिजरेटर के अंदर लगी रबर पर काली फिल्म या परत फंगस का कारण है। वहीं, कुछ लोग तो फलों व सब्जियों पर लगने वाले दाग को भी फंगस का कारण मान रहे हैं। इसके अलावा कहा जा रहा है कि गंदे कूलर, एसी से भी ब्लैक फंगस का खतरा है।

क्या है एक्सपर्ट की राय?

एक्सपर्ट के मुताबिक, ब्लैक फंगस का कारण प्याज और फ्रिज नहीं है। प्याज, फल-सब्जियों पर लगने वाला फंगस जानलेवा संक्रमण का कारण नहीं बनता। डॉ. के अनुसार, ये काले दाग मिट्टी में पाए जाने वाले सामान्य कवक की वजह से दिखाई देते हैं जो हानिकारक नहीं है।

कैसे फैल रही बीमारी?

वैज्ञानिकों का कहना है कि पहले से ही किसी बीमारियों से जूझ रहे लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है। ऐसे में वह वातावरण में मौजूद बैक्टीरिया, वायरस की चपेट में जल्दी आ जाते हैं, जिस कारण Mucormycosis भी होता है। CDC का कहना है कि हवा में मौजूद फंगस सांस के जरिए शरीर में जाकर फेफड़ों और साइनस पर असर डालता है।

PunjabKesari

किन लोगों को अधिक खतरा?

CDC के मुताबिक, ब्लैक फंगल उन लोगों को अधिक प्रभावित करता है जो किसी हैल्थ प्रॉब्लम्स की वजह से दवा ले रहे हों। कैंसर, डायबिटीज, स्किन से जुड़ी सर्जरी, आयरन की मात्रा ज्यादा और ऑर्गन ट्रांसप्लांट करवाने वाले लोगों को इसका खतरा अधिक है।

क्या करें?

एक्सपर्ट का कहना है कि बेशक इससे ब्लैक फंगस का खतरा नहीं है लेकिन हाइजीन को ध्यान में रखते हुए प्याज को धोना बेहतर होगा। अगर प्याज पर ज्यादा फफूंद लगी है तो उसे यूज ना करें। इसके अलावा फल व सब्जियों को भी अच्छी तरह धोकर यूज करें।

PunjabKesari

वहीं, बीमारी से बचने के लिए कोरोना सेफ्टी के सभी नियमों का पालन करें और शुगर लेवल को कंट्रोल में रखें। अगर कोई भी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Recommended News

static