वास्तु में भी गंगाजल का विशेष महत्व, ऐसे करें इस्तेमाल बनी रहेगी सुख-समृद्धि

2021-05-18T17:01:52.773

हिंदू धर्म में गंगा जल को बेहद शुभ व पवित्र माना जाता है। माना जाता है कि इसे कई सालों तक घर पर रखने से भी यह खराब नहीं होती है। साथ ही किसी चीज पर इसकी एक बूंद छिड़कने पर ही वह वस्तु एकदम शुद्ध हो जाती है। मान्यता है कि ही गंगा स्थान करने से पापों से मुक्ति मिलती है। मगर गंगाजल का धार्मिक कार्यों के साथ वास्तुशास्त्र में भी खास महत्व है। जी हां, वास्तु के अनुसार, इससे जीवन की कई परेशानियों से छुटकारा मिलता है। तो आइए आज हम आपको गंगाजल से जुड़े कुछ वास्तु उपाय बताते हैं...

सकारात्मक ऊर्जा पाने के लिए 

घर पर वास्तुदोष होने नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश कर जाती है। इसके कारण घर के सदस्यों में तनाव बनने लगता है। साथ ही अन्न व धन संबंधी समस्या होने लगती है। ऐसे में अगर आप कुछ ऐसा महसूस कर रहे हो तो पूजा के बाद पूरे घर पर गंगाजल छिड़काएं। इससे वास्तुदोष दूर होकर घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा। साथ ही सुख-समृद्धि व बरकत बनी रहेगी। इसके अलावा मन की शांति का अहसास होगा। 

PunjabKesari

ग्रह दोष से दिलाए मुक्ति

कुंडली में ग्रह दोष होने से कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ये परेशानियां घर, नौकरी, कारोबार, सेहत आदि किसी भी तरह की हो सकती है। ऐसे में इससे बचने के लिए सोमवार को शिवजी की पूजा के दौरान उन्हें गंगाजल चढ़ाएं। इसके अलावा शनिवार के दिन पीपल पेड़ पर गंगाजल मिला पानी अर्पित करें। इससे ग्रह दोषों से जल्द ही छुटकारा मिलेगा। 

कर्ज से मिलेगा छुटकारा 

कर्ज की समस्या से परेशान लोग गंगाजल से जुड़ा उपाय कर सकते हैं। इसके लिए पीतल के बर्तन में गंगाजल भर कर घर की उत्तर-पूर्वी दिशा में रख दें। वास्तु के अनुसार, इससे कर्ज की समस्या धीरे- धीरे दूर हो जाएगी। 

PunjabKesari

बच्चों में एकाग्रता शक्ति बढ़ाने के लिए

अगर आपके बच्चे का मन पढ़ाई में नहीं लगता है तो बुधवार के दिन भगवान गणेश जी की पूजा करें। साथ ही घर के हर कोने में गंगाजल छिड़काएं। खासतौर पर बच्चे के कमरे व स्टडी रूम में गंगाजल छिड़काएं। वहीं अगर बच्चा रात को सोते समय अचानक डरता है तो उसके बेड पर भी गंगाजल छिड़क दें।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

neetu

Recommended News

static