अस्थमा में क्या खाएं और किन चीजों से रखें परहेज

Friday, November 10, 2017 12:18 PM
अस्थमा में क्या खाएं और किन चीजों से रखें परहेज

प्रदूषण के कारण बहुत से लोगों को सेहत से जुडी परेशानियां होती हैं, इनमें से एक है सांस लेने की तकलीफ यानि अस्थमा। इसे दमा रोग भी कहा जाता है, इसके लक्षण हैं सांस लेते समय आवाज आना,सांस फूलना,बहुत खांसने पर कफ आना,सांस लेने में परेशानी होना,दम घुटना आदि। इस तरह के लक्षण दिखाई देने पर सही समय पर डॉक्टरी जांच करवाना और इलाज करवाना बहुत जरूरी है। इस रोगी को अपने खान-पान का पूरा ध्यान रखना चाहिए। आइए जानें अस्थमा रोग में किस तरह के पदार्थ खाने चाहिए और किनसे बनाना चाहिए दूरी। 

खाएं ये आहार 

विटामिन सी
शरीर में विटामिन सी की कमी होने पर रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है।  जिससे बॉडी जल्दी बीमारियों की चपेट में आ जाती है। अस्थमा के रोगी को अपने आहार में विटामिन सी से भरपूर फलों का सेवन करना चाहिए। संतरा, नींबू, अंगूर, कीवी, आंवला, ब्रोकोली, टमाटर,शिमला मिर्च और बूशेल्स स्प्राउट में यह भरपूर मात्रा में होता है।

बीटा कैरोटीन
बीटा कैरोटीन अस्थमा के रोगी के लिए बहुत फायदेमंद है। गाजर में यह तत्व भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा खुबानी, चेरी, हरी मिर्च, शिमला मिर्च और शकरकंद खाना भी लाभकारी है। 

शहद और दालचीनी
रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद में 2-3 चुटकी दालचीनी का पाउडर मिक्स करके खाएं। सुबह उठने के बाद फिर यही प्रक्रिया दोहराएं। कुछ दिन लगातार इस्तेमाल से दमा रोग में बहुत आराम मिलेगा। 

कॉफी
वैसे तो कुछ रोगों में कैफिन से बने पदार्थ सेहत के लिए हानिकारक होते हैं लेकिन  अस्थमा में कॉफी पीना फायदेमंद माना जाता है लेकिन दिन में 2 बार से ज्यादा कॉफी का सेवन न करें। 

तुलसी 
तुलसी की चाय या फिर 1 कप गर्म पानी में 2-3 पत्ते तुलसी के डालकर पीने से बहुत फायदा मिलता है। 

रखें इन चीजों से परहेज

1. तले हुए खाने से दूरी बना लें। जितनी हो सके तली चीजें आहार में शामिल न करें। 

2. अस्थमा में मूंगफली खाने से परहेज करना चाहिए। 

3. इस रोग में ज्यादा नमक का सेवन करना भी सही नहीं है।

4. जंक फूड और डिब्बाबंद भोजन,बासी खाना,मक्खन आदि वसा युक्त आहार इस परेशानी को और भी बढ़ा सकते हैं। 


फैशन हाे या ब्यूटी टिप, महिलाअाें से जुड़ी हर जानकारी के लिए डाउलनाेड करें NARI APP



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!