भानू अथैया ने जीता था भारत का पहला 'ऑस्कर अवॉर्ड'

punjabkesari.in Friday, Oct 07, 2022 - 11:22 AM (IST)

ऑस्कर अवॉर्ड मनोरंजन की दुनिया का सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड है और कुछ चुनिंदा एक्ट्रर्स ही इसे अपने बेहतरीन कला प्रदर्शन से  जीत पाते हैं। हर साल पूरी दुनिया से मनोरंजन जगत के लोग अपनी फिल्म को ऑस्कर नॉमिनेशन के लिए भेजते है। बॉलीवुड से भी कई नॉमिनेशन जाती है, लेकिन क्या आपको पता है की देश के लिए सबसे पहले ऑस्कर अवॉर्ड किसने जीता था? अंतरराष्ट्रीय स्तर  पर अपने ड्रेस डिजाइनिंग के जरिए पहचान बनाने वाली यह हस्ती थी भानू अथैया। 

 

साल 1982 में फिल्म ‘गांधी’ में कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग के लिए भानू  को ऑस्कर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। यह फिल्म अंग्रेज निर्माता एटनबरो ने बनाई थी और भानू ने इसमें 100 एक्ट्रर्स के कॉस्ट्यूम डिजाइन किए थे। 

 

दो नेशनल अवॉर्ड भी जीत चुकी है भानू 

 

भानू का जन्म 28 अप्रैल 1929 को महाराष्‍ट्र के कोल्‍हापुर में हुआ था। पढ़ाई पूरी करने के बाद वह मुंबई आ गईं। उन्‍होंने फिल्‍म इंडस्‍ट्री में 1956 में आई फिल्‍म 'सीआईडी' से कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग में डेब्‍यू किया। भानू का करियर काफी लंबा था। उन्होंने अपने करियर में 100 से भी ज्यादा फिल्में जैसे 'प्‍यासा', 'गाइड', 'सत्‍यम शिवम सुंदरम', 'चांदनी', 'लगान' और 'स्‍वदेस' में काम किया। भानू को अपनी बेहतरीन कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग के लिए दो नेशनल अवॉर्ड गुलजार की फिल्म 'लेकिन' और आशुतोष गोवारिकर की फिल्म 'लगान' के लिए मिले थे।

 

PunjabKesari

 

2012 को किया भानू ने अपना ऑस्कर अवॉर्ड वापिस

 

साल 2012 में भानू ने अपने 'ऑस्कर अवॉर्ड' एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स आर्ट्स एंड साइंस को वापस लौटा दिया था ताकि इसे सुरक्षित तरीके से रखा जा सके। उन्होंनें अपने अनुभव साझा करते हुए ‘आर्ट ऑफ कॉस्ट्यूम डिजाइन’ के नाम से बुक भी लिखी, जो लोगों में काफी फेमस हुई। जिंदगी के आखिर सालों में वो ब्रेन ट्यूमर से जूज रही थी और 15 अक्‍टूबर 2020 को 91 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vandana

Related News

Recommended News

static