शनि देव की वक्री चाल इन राशियों पर पड़ेगी भारी, झेलनी पड़ेगी कई परेशानियां

punjabkesari.in Saturday, May 27, 2023 - 06:36 PM (IST)

न्याय के देवता शनिदेव हर किसी को उसके कर्मों के अनुसार, फल देते हैं। माना जाता है कि जिस पर वह मेहरबान हो जाएं उसपर अपनी कृपा बरसाकर रहते हैं और जीवन की परेशानियों से भी उसे दूर ही रखते हैं। वहीं जिससे शनिदेव नाराज हो जाएं उस व्यक्ति का जीवन परेशानियों से भर जाता है। ज्योतिषाशास्त्र में भी शनि देव को बहुत ही महत्वपूर्ण ग्रह माना जाता है। शनि देव के शुभ प्रभाव से व्यक्ति के जीवन में कई पॉजिटिव बदलाव आते हैं। वहीं सौरमंडल में शनिदेव सबसे धीमी गति चलने वाले ग्रह माने जाते हैं। 17 जून से शनि वक्री होने वाली हैं जिसका असर कुछ राशियों पर पड़ेगा। तो चलिए आपको बताते हैं ऐसी कौन सी राशियां हैं जिनपर शनि वक्री का असर दिखेगा....

ढाई साल बाद एक राशि से निकलते हैं शनि 

ज्योतिषाशास्त्र की मानें तो लगभग ढाई साल के बाद शनि एक राशि से निकलकर दूसरी राशि में जाते हैं इसलिए इस शास्त्र में शनि महाराज का बहुत ही अहम स्थान माना जाता है जो व्यक्ति को उसके कर्मों के मुताबिक फल देते हैं। खासकर शनि वक्री का असर कुछ राशियों पर बहुत ही पड़ता है। इन राशियों की कई सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। 17 जून 2023 रात 10:48 पर शनि कुंभ राशि में वक्री होने जा सकते हैं। शनिदेव का वक्री कुछ राशियों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। 

PunjabKesari

तुला  

तुला राशि के जातकों के लिए शनि का वक्री होना कई तरह की मुश्किलें खड़ी कर सकता है। इन लोगों के कार्यक्षेत्र पर इसका नेगेटिव असर पड़ेगा। वहीं इस राशि के जातकों बहुत ही सतर्क रहना पड़ेगा खासकर तुला राशि के जो जातक व्यापार या नौकरी उन्हें हानि हो सकती है। इसके अलावा इन राशि के लोगों की सेहत भी खराब हो सकती है। 

मेष  

शनि की उल्टी चाल मेष राशि के जातकों के लिए भी मुश्किल खड़ी कर सकती है। वक्री होने से इस राशि के जातकों के बना-बनाया काम बिगड़ सकता है। इसके अलावा इन लोगों के कार्यों में रुकावट भी आ सकती है। आर्थिक नुकसान भी हो सकता है जिसके कारण आपका जीवनसाथी के साथ मन-मुटाव हो सकता है। वाद-विवाद के कारण आपकी समस्या और भी बिगड़ सकती है । 

PunjabKesari

कुंभ 

ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार, शनि देव की वक्री कुंभ राशि पर नेगेटिव असर डालेगी। इन लोगों को शारीरिक और मानसिक कष्टों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा करियर में भी रुकावटें आ सकती हैं।

कर्क

कर्क राशि के जातकों पर भी शनि ढैय्या का असर दिखेगा। कर्क राशि के आठवें भाग में शनि देव वक्री होने वाले हैं जिसके कारण आपको आर्थिक नुकसान हो सकता है। सेहत पर भी इसका प्रभाव पड़ सकता है। इसके अलावा करियर संबंधी परेशानियां आपकी बढ़ सकती हैं। 

कैसे करें शनि वक्री से बचाव?

शनि वक्री के कारण होने वाले दुष्प्रभावों से बचने के लिए आप हनुमान जी की पूजा जरुर करें। भगवान भैरव जी की उपासना से भी लाभ मिलेगा। यदि आप चाहते हैं कि शनिदेव आपको परेशान न करें तो इसके लिए महामृत्युंजय मंत्र जपें। 

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

static