क्या भारत के आखिरी गांव Mana से सच में है सीधे स्वर्ग जाने का रास्ता?

punjabkesari.in Thursday, Jan 19, 2023 - 03:04 PM (IST)


क्या आप भारत के आखिरी गांव माणा के बारे में जानते है ? यह गांव उत्तराखंड में बसा हुआ है। माणा गांव को भारत के अंतिम गांव के रुप में मान्यता भी प्राप्त हैं।इस गांव को लेकर कई सारे मान्यताएं भी प्रचलित हैं। कहा जाता है कि इस गांव से स्वर्ग जाने का रास्ता मौजूद है। चलिए जानते हैं कहां है ये गांव। साथ ही क्या खास है भारत के आखिरी गांव माणा में...

कहां है माणा गांव

भारत का ये आखिरी गांव माणा बद्रीनाथ से 3 किमी ऊंचाई पर बसा हुआ है। यह गांव भारत और तिब्बत की सीमा से लगा हुआ है।

PunjabKesari

पौराणिक महत्व

इस गांव का पौराणिक महत्व भी है। कहा जाता है कि पांडवों ने अपनी स्वर्ग यात्रा के दौरान माणा गांव को पार किया था।

व्यास और गणेश गुफाएं

इस गांव में व्यास और गणेश जैसी दिव्य गुफाएं मौजूद हैं। वेद गुफा में वेद  व्यास ने चारों वेदों का संकलन किया और यहीं पर पहली बार महाभारत का वर्णन किया गया था।

PunjabKesari

माणा गांव में घूमने की जगहें

नीलकंठ चोटी को गढ़वाल की रानी के नाम से भी जाना जाता है। यह बर्फ से ढकी चोटी बद्रीनाथ मंदिर की खूबसूरत में चार चांद लगा देती है।

तप्त कुंड

तप्त कुंड एक झरना है। इस झरने के पीछे एक कहानी है। कहा जाता है कि भगवान बद्रीनाथ ने यहां तपस्या की थी।

PunjabKesari

भीमपुल

ऐसा कहा जाता है कि पांडव इसी भीमताल से होते हुए स्वर्ग की ओर गए थे। इसी वजह से इसे स्वर्ग का रास्ता कहा जाता है।

ट्रैकिंग का लें आनंद

माणा गांव ट्रैकिंग के लिए भी एक अच्छी जगह है। ट्रैकिंग करने के लिए आप नीलकंठ, माणा से चरणापादुका वसुधारा जा सकते हैं।

PunjabKesari

अगली बार अगर आपको उत्तराखंड घूमने का प्लान करें तो माणा गांव जरुर जाएं।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Charanjeet Kaur

static