खेल रत्न के लिए चुनी गई मिताली राज, इतिहास में पहली बार महिला क्रिकेटर को मिलेगा ये सम्मान

2021-10-28T14:01:20.26

तोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों में शानदार प्रदर्शन को लेकर महिला टेस्ट क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज और ओलंपिक चैंपियन भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा सहित 11 खिलाड़ियों के नाम को इस सम्मान के लिए चुना गया है।  मिताली पहली महिला क्रिकेटर हैं, जिन्हे ये सम्मन मिलने जा रहा है। इससे पहले सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी सहित कई दिग्गज ये सम्मान अपने नाम अपने नाम कर चुके हैं, लेकिन इस लिस्ट में पहली बार कोई महिला शामिल हो रही है। 

PunjabKesari
मिताली वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली खिलाड़ी हैं। उन्होंने 220 वनडे मैचों में 51.32 की औसत से 7,391 रन बनाए हैं। वह अब तक महिला वनडे में सबसे अधिक 59 अर्धशतक और सात शतक लगा चुकी हैं। वह वनडे क्रिकेट में 6,000 और 7,000 रन बनाने वाली एकमात्र महिला क्रिकेटर भी हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू वनडे सीरीज में मिताली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने 10,000 रन पूरे किए थे। ऐसा करने वाली वह दुनिया की दूसरी और भारत की पहली महिला क्रिकेटर बनी थीं।

PunjabKesari

घरेलू क्रिकेट में मिताली राज का प्रदर्शन हमेशा शानदार रहा है और उनके अलावा कोई भी महिला क्रिकेटर इस मुकाम को हासिल करने के करीब नहीं है। मिताली राज ने साल 1999 में भारत के लिए डेब्यू किया था। वह पिछले 22 सालों से लगातार भारत के लिए बेहतरीन प्रदर्शन करती आ रही हैं, ऐसे में वह इस सम्मान की हकदार हैं।मिताली राज ने सितंबर 2019 को टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को संयास ले लिया था।  इस सबसे छोटे फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बनाने की लिस्ट में वो 7वें नंबर पर हैं। 

PunjabKesari

 राजस्थान के जोधपुर जन्मी मिताली को बचपन से ही डांस करना बहुत पसंद था।  डांस को छोड़कर  वह और काम करने में बहुत आलसी थी इसलिए उनके पिताजी ने उनको क्रिकेट खेलने की सलाह दी। भारतनाट्यम और क्रिकेट दोनों साथ में करने वाली  मिताली ने अपने कैरियर के लिए क्रिकेट को चुना।  17 साल की उम्र में ही उनका सिलेक्शन भारतीय क्रिकेट टीम में हो गया था, जिसके बाद उन्होंने कभी पीछे मूड़कर नहीं देखा। 
PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Related News

Recommended News

static