हिम्मत से मिली जीत! दिमागी बीमारी से जूझ रही महिला ने दी मौत को मात, आज हैं सफल मॉडल

11/24/2020 2:49:17 PM

इस बात से तो कोई इंकार नहीं कर सकता कि हर एक बिमारी का इलाज सिर्फ और सिर्फ दवा ही है। हमारी छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बीमारी का हल डॉक्टर्स मिनटों में कर देते हैं लेकिन कईं बार आपकी बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए जो सबसे अच्छी दवा होती है वह है आपकी हिम्मत जब तक आप में कुछ करने का, कुछ पाने की इच्छा नहीं जगेगी तब तक आप सफलता को प्राप्त नहीं कर सकते हैं। 

हम रोज सुबह उठते हैं किस वजह से? क्योंकि हमारे अंदर कुछ करने की चाह होती है और एक ऐसी ही चाह और शक्ति दिखाई है 24 साल की लूसी डॉसन ने। जिन्हें एक समय पर डॉक्टर्स ने कह दिया था कि वह अब बच नहीं पाएंगी लेकिन वो हारी नहीं और आज वो एक सफल मॉडल के रूप में काम कर रही हैं। 

हालात इतने बदतर थे कि...

PunjabKesari

मीडिया रिपोर्टस की मानें तो एक समय ऐसा था जब डॉक्टर्स ने लूसी और उसके परिवार वालों को साफ कह दिया था कि आपकी बेटी अब नहीं बच पाएगी। इसके जिंदा रहने की संभावना अब मत करें लेकिन वो कहते हैं न कि जहां दवा काम नहीं आती वहां दुआ के साथ-साथ आपके अंदर की शक्ति काम आती है और इसी शक्ति से आज लूसी ने सफलता हासिल की।  

तो चलिए आपको बताते हैं इस महिला की कहानी...

दरअसल लूसी की हालत तकरीबन 4 साल पहले खराब होनी शुरू हुई। पहले लूसी को माइग्रेन हुआ और इस दौरान उनके सिर पर बहुत तेज दर्द होने लगा फिर इसके बाद वह बहुत ज्यादा डिप्रेस्ड रहने लगी थीं। बीमार रहने के कारण वह सारा दिन बेड पर लेटी रहती थीं फिर इसके बाद लूसी को दो बार नर्वस ब्रेकडाउन भी हुआ। 

फेंकने लगी थी चीजें 

PunjabKesari

ब्रेकडाउन के बाद लूसी की हालत इतनी खराब हो गई कि वह घर का सामान इधर उधर फेकंने लगी। अकेली चिल्लाने लगी और लूसी की ऐसी हालत को देख उसके माता-पिता उसे जल्द ही अस्पताल लेकर गए। 

कार से कूदने की कोशिश की 

इस दौरान जब उसे लेजाया गया तो लूसी ने कार से कूदने की कोशिश की। इतना ही नहीं अस्पताल के वेटिंग ऐरिया को भी काफी नुक्सान पहुंचाया और धीरे धीरे लूसी की हालत और खराब होती रही।

डॉक्टर्स ने मान ली थी हार 

PunjabKesari

इसके बाद लूसी को वापिस से स्वस्थ करने के लिए  इलेक्ट्रिक झटके भी दिए गए लेकिन हालत में कोई सुधार न देखकर डॉक्टर्स हार मानने लगे थे। खबरों की मानें तो लूसी किसी दिमारी बिमारी से तो ग्रस्त नहीं थी लेकिन उसे एक ऐसा बीमारी थी जिसके कारण दिमाग में सूजन होने लगती हैं और इस दौरान इंसान की कभी भी जान जा सकती है। 

3 महीने बाद बीमारी की हुई पहचान 

इसके बाद 3 महीने बाद जाकर लूसी की बीमारी की पहचान की गई तो डॉक्टर इलाज करने में सफल हो गए हालांकि लूसी ने इस दौरान कभी भी हार नहीं मानी और अपने अंदर की जीने की इच्छा शक्ति को जगाए रखा। आज वो एक दम ठीक हैं और वह आज एक सफल मॉडल के रूप में अपना भविष्य सवार रही हैं। 


Janvi Bithal

Recommended News