बच्चे में दिखे ये बदलाव तो समझे वह है यौन शोषण का शिकार

Tuesday, May 8, 2018 5:10 PM
बच्चे में दिखे ये बदलाव तो समझे वह है यौन शोषण का शिकार

हर माता-पिता अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर बहुत चिंतित रहते है। आजकल जैसे-जैसे अपराध बढ़ रहे हैं वैसे ही बच्चों की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हो रहा हैं। घर हो या स्कूल, बच्चे की सुरक्षा हर जगह ही जरूरी है।  जहां एक ओर बच्चों को गुड और बैड टच जैसी चीजे सिखाने की जरूरत है, वहीं पेरेंट्स को अपने बच्चे के व्यवहार पर नजर रखने की भी जरूरत है। अगर आपके बच्चों में ये 5 लक्षण दिखते हैं तो उसे गंभीरता से लेते हुए बच्चे से जरूर बात करें। जरूरत पड़ने पर आप इस मनोवैज्ञानिक के पास भी लेकर जा सकते हैं।
 

1. अपने आप में खोए रहना
बच्चा अगर अचानक खोया-खोया या चुपचाप रहने लगे तो समझें की कुछ गड़बड़ है। ऐसे में आप बच्चे से बातचीत करें। उन्हें भरोसा दिलाएं कि आप उनसे नाराज नहीं होंगेचाहे बात कितनी भी बड़ी क्यों ना हो।

PunjabKesari

2. ज्यादा गुस्सा करना या नाराज होना
हर व्यक्ति को गुस्सा तभी आता है जब वह अंदर से परेशान, फिर बात चाहे बच्चों की ही क्यों न हो। खुशमिजाज बच्चा अगर छोटी-छोटी बात पर रोने या गुस्सा करने लगे तो समझ ले कि कुछ ऐसा है जिसके बारे में आपको नहीं पता। ऐसे में बच्चे और उसके दोस्तों से बात करें क्योंकि हो सकता है स्कूल में उसके साथ गलत व्यवहार हुआ हो।
 

3. नींद ना आना
बच्चों को नींद न आना उसका डर का सबसे बड़ा संकेत है। ऐसे में आपको तुरंत किसी मनोवैज्ञानिक से बात करके बच्चे की इस प्रॉब्लम का हल ढूढ़ना चाहिए। बच्चे के मन से जितनी जल्दी हो उसका डर बाहर निकालें।
 

4. किसी एक व्यक्ति को अवॉइड करना
अगर आपका बच्चा किसी एक व्यक्ति को देखकर उसे अवॉइड करता है या डर जाता है तो उसे छोटी बात न समझें। बच्चे को अपने कॉन्फिडेंस में लेकर इसका कारण जानने की कोशिश करें। इसके पीछे का कारण जानने की कोशिश करें कि आखिर क्यों उस व्यक्ति को नजरअंदाज कर रहा है।

PunjabKesari

5. अकेले रहना
बच्चो को अकेले रहना, आपसे भी बात न करना चिंता का कारण है। क्योंकि बच्चे ऐसा तभी करते हैं जब वो अंदर तक किसी बात से सहमे होते हैं। अगर आपका बच्चा भी ऐसा करता है तो उससे बात करें और इसका कारण जानने की कोशिश करें।
 

6. पढ़ाई पर ध्यान न देना
बच्चे का मन पढा़ई में न लगना या याद की हुई चीजें भूलना भी उनके साथ हो रहे बुरे व्यवहार का संकेत हो सकता है। बच्चे के साथ जिस भी जगह पर दुर्व्यवहार हुआ हो तो वह वहां जाने से जरूर आनाकानी करेगा। बेशक वह जगह स्कूल हो, ट्यूशन या किसी दोस्त का घर। अगर आपके बच्चे में भी ये संकेत दिखाई दे तो उससे इस बारे में जरूर बात करें।

 

7. भोजन न करना
जब बच्चे की भूख मर जाए या वह पहले से ज्यादा खाने लगे तो यह भी उसके साथ होने वाले बुरे व्यवहार के संकेत हैं। ऐसे में बच्चा अपने पसंद की चीज खाने से भी मना कर देता है। आपको उससे बात करके या स्कूल जाकर इस बारे में पूछताछ करनी चाहिए।

PunjabKesari


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन