अगर आपको भी है बैठे-बैठे पैर हिलाने की आदत तो जरा हो जाएं सावधान

Saturday, January 6, 2018 10:16 AM
अगर आपको भी है बैठे-बैठे पैर हिलाने की आदत तो जरा हो जाएं सावधान

समय फ्री होने पर या खेल-खेल में  लोग अक्सर पैर हिलाने लगते हैं। धीरे-धीरे ये खेल उनकी आदत में बदल जाता है। कुछ लोग को तो यह आदत इस हद तक लग जाती है कि वो लेट कर भी पैर हिलाते रहते हैं। एक रिर्सच के अनुसार 10 फीसदी लोगों को यह आदत होती ही है। ज्यादातर यह लक्षण 35 साल से अधिक लोगों में पाए जाते हैं लेकिन आजकल इससे कम उम्र के लोगों को भी यह आदत हो जाती है। अगर आपको भी बैठ या लेट कर पैर हिलाने की आदत है तो जरा सावधान हो जाइए कहीं पैर हिलाने की ये आदत आपके लिए खतरा न बन जाए। आपके पैर हिलाने की यह आदत रेस्टलेस सिंड्रोम के लक्षण भी हो सकते हैं। आइए जानते है इसके बारे में कुछ और बातें।
 

क्या होता है रेस्टलेस सिंड्रोम
यह बीमारी आयरन की कमी के कारण होती है। ज्यादातर 35 साल से अधिक उम्र के लोगों में यह बीमारी पाई जाती है लेकिन आजकल पैर हिलाने की आदत तो आजकल इससे कम उम्र के लोगों में भी होती है। नर्वस सिस्टम से जुड़े इस रोग में डोपामाइन हार्मोन श्रावित होने के कारण ऐसा बार-बार करने का मन करता है। इस समस्या को स्लीप डिसऑर्डर भी कहा जाता है। नींद पूरी न होने पर इंसान थका हुआ महसूस करता है। इसके लक्षण दिखने पर आपको तुरंत ब्लड टेस्ट करवाना चाहिए।

PunjabKesari

रिसर्च के अनुसार यह है कारण
यह रोग ज्यादातर आयरन की कमी और नींद पूरी न होने के कारण होता है। इसके अलावा यह रोग किडनी, पार्किंसंस से पीडि़त मरीजों, शुगर, बीपी, हृदय  और महिलाओं में डिलीवरी के आखिरी दिनों में हार्मोनल बदलाव के कारण भी हो सकता हैं।

इलाज है संभव?
यह बीमारी ज्यादातर नींद पूरी न होने और आयरन की कमी के कारण होती है। इसलिए इस बीमारी में आयरन और अन्य दवाएं दी जाती है, जिसे सोने से दो घंटे पहले लेना होता है। यह दवाएं नींद की बीमारी को दूर करके स्थिति को सामान्य करती है।

PunjabKesari

घरेलू नुस्खें
दवाओं के अलावा इस बीमारी को दूर करने के लिए आप कुछ घरेलू नुस्खें भी कर सकते हैं। अपनी डाइट में आयरनयुक्त चीजें जैसे पालक, सरसों का साग, चुकंदर, केला आदि लें। इसके अलावा रोजाना व्यायाम, हॉट एंड कोल्ड बाथ और वाइब्रेटिंग पैड पर पैर रखने से इस परेशानी से छुटकारा मिलता है।

इन चीजों से रहें दूर
रात को भोजन के बाद चाय-कॉफी लेने से बचें। इसके अलावा सोने से पहले टीवी, स्मार्टफोन, गैजेट्स और लैपटॉप का इस्तेमाल न करें। रात में हल्का खाना लें ताकि नींद अच्छी आए। इसके अलावा शराब और स्मोकिंग से भी दूरी बनाएं।


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन