ससुराल वाले करते थे तंग,मायके में की तैयारी, UPSC की परीक्षा उत्तीर्ण कर तीसरे प्रयास में IAS बनी शिवांगी

punjabkesari.in Tuesday, May 31, 2022 - 07:06 PM (IST)

पिलखुवा गांवी की लड़की शिवांगी गोयल ने यूपीएससी की परीक्षा में 177वीं रैंक हासिल कर अपने परिवार वालों और जिले का नाम रोशन किया है। शिंवागी और उनके परिवार हर किसी से बधाईयां मिल रही हैं। शिवांगी शादीशुदा है और उनकी सात साल की एक बेटी भी है। शिवांगी ने अपनी इस जीत का सारा श्रेय माता-पिता और अपनी 7 साल की बेटी रैना अग्रवाल को दिया है। तीसरी प्रयास में शिवांगी ने यूपीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण कर आईएएस बनी हैं। 

PunjabKesari

ससुराल से मायके आकर की परीक्षा की तैयारी 

शिवांगी के सफल होने के पीछे बहुत ही दर्द भरी कहानी है। शिवांगी शादीशुदा है उनके पति के साथ उनका तलाक का केस चल रहा है। शिवांगी आईएएस बनना चाहती थी। उन्होंने शादी से पहले दो बार आईएएस की परीक्षा भी दी। किंतु वो असफल रही। ससुराल वाले शिवांगी के साथ घरेलू हिंसा करते थे। जिसके बाद उनके माता-पिता उन्हें अपने घर ले आए थे। शिवांगी ने पहली परीक्षा 2019 में दी थी पर वो असफल रही थी। 

प्रिंसिपल ने दी थी प्ररेणा 

शिवांगी बताती हैं कि - 'जब वह स्कूल में थी तो उनके स्कूल के प्रिंसिपल ने उन्हें यूपीएससी की तैयारी करने के लिए कहा था। तब से आईएएस बनना उनका सपना था।' इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए उन्होनें सेल्फ स्टडी की और उनका मेन विषय सोशोलॉजी रहा। 

PunjabKesari

बाकी लड़कियों को दी हिम्मत 

शिवांगी ने कहा कि- 'मैं समाज में उन शादीशुदा महिलाओं को यह संदेश देना चाहती हूं कि यदि ससुराल में उनके साथ कुछ गलत हो रहा है तो वे डरे नहीं, अपने पैरों पर खड़े होकर दिखाएं। महिलाएं कुछ भी कर सकती हैं। सच्ची लगन और दिल लगाकर पढ़ें तो वह भी आईएएस क्लीयर कर सकती हैं। मैं आज बहुत ही खुश हूं कि मेरा आईएएस बनने का सपना साकार हो गया।' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

static