Pain Awareness Month: गर्दन दर्द से तुरंत राहत दिलाएंगे ये घरेलू नुस्खे

2021-09-18T09:58:10.267

सीटिंग जॉब वालों को लंबे समय तक कंम्यूटर के सामने बैठकर काम करना पड़ता है। वहीं इसके कारण कई लोगों को शरीर में दर्द की परेशानी से जूझना पड़ता है। इनमें से एक है गर्दन के पिछले हिस्से का दर्द। ऐसे में अगर आप भी गर्दन दर्द से परेशान है तो कुछ देसी नुस्खों को अपनाकर इससे राहत पा सकती है। चलिए आज हम आपको गर्दन दर्द से निजात पाने के कुछ देसी उपाय बताते हैं। मगर उससे पहले जानते हैं इसके होना का कारण...

गर्दन होने का कारण

. कुर्सी पर गर्दन झुकाकर काम करना
. रीढ़ की हड्डी सीधे करके ना बैठना
. गलत तरीके से बैठना व सोना
. मोटा तकिया लेकर सोना
. इन सबके अलावा सर्वाइकल के कारण गर्दन में दर्द की शिकायत हो सकती है।

अगर आपका दर्द ज्यादा नहीं है तो आप कुछ घरेलू उपायों द्वारा इससे राहत पा सकती है। चलिए जानते हैं इसके बारे में...

PunjabKesari

अदरक की चाय पीएं

अदरक में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल आदि गुण होते हैं। इसका सेवन करने से शरीर दर्द से राहत मिलती है। ऐसे में आप गर्दन दर्द से छुटकारा पाने के लिए अदरक की चाय पी सकती है।

हल्दी दूध

हल्दी विटामिन, आयरन, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल व औषधीय गुण होते हैं। इसका सेवन करने से इम्यूनिटी बढ़ने के साथ दर्द से राहत मिलती है।‌‌ वहीं आप रोजाना सोने से पहले हल्दी वाला दूध पी सकती है।

PunjabKesari

गुनगुने पानी से नहाएं

गुनगुने पानी से नहाने पर भी गर्दन दर्द से आराम मिलता है। आप सोने से पहले हॉट वॉटर बॉथ लें सकती है।

गर्म पानी की सिकाई

गर्दन में दर्द अधिक होने पर आप गर्म पानी से सेंक कर सकती हैं। इससे खून का संचार तेज होता है। ऐसे में गर्दन दर्द से आराम मिलता है।

तेल मसाज

आप गुनगुने नारियल, बादाम, जैतून आदि तेल से गर्दन की मसाज कर सकती हैं। इससे आपका दर्द कम होगा। इसके साथ ही अच्छी नींद आने में मदद मिलेगी।

PunjabKesari

लैवेंडर ऑयल

लैवेंडर ऑयल की महक तनाव कम करने में मदद करती है। इससे माइंड फ्रेश रहता है। ऐसे में दर्द का एहसास कम होकर अच्छी व गहरी नींद आने में मदद मिलती है। इसके अलावा आप चाहें तो इस तेल से गर्दन की मसाज भी कर सकती हैं।

ऐसा करने से बचें

आमतौर पर सीटिंग जॉब में घंटों कम्प्यूटर के सामने बैठना पड़ता है। वहीं कुर्सी पर गर्दन झुकाकर बैठने से दर्द की शिकायत हो जाती है। इससे बचने के लिए कोशिश करें कि रीढ़ की हड्डी एकदम सीधे करके बैठे। साथ ही हर 1-2 घंटे में कुर्सी से उठकर टहलें या गर्दन की एक्सरसाइज करें।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

neetu

Recommended News

static