''शक्ल देखी है अपनी? जब काम के लिए दर-दर भटक रही स्मृति ईरानी को सुननी पड़े थे ताने

punjabkesari.in Wednesday, Mar 23, 2022 - 10:59 AM (IST)

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी किसी वक्त में टीवी का पॉपुलर चेहरा हुआ करती थी। भले ही वो आज राजनीति में एक्टिव है लेकिन एक वक्त में उनकी छवि घर चलाने वाली संस्कारी बहू की थी। 23 मार्च 1976 को दिल्ली में जन्मी स्मृति ईरानी आज जिस मुकाम पर है वहां तक पहुंचना उनके लिए आसान नहीं था। उन्होंने झाड़ू-पोछा किया लोगों के ताने सुने लेकिन हारी नहीं। चलिए आज के इस पैकेज में हम आपको बताते है स्मृति ईरानी से जुड़ी बातें।

18-19 साल की उम्र में नौकरी के लिए उन्होंने खूब धक्के खाए। जब उन्हें नौकरी नहीं मिली तो उन्होंने झाड़ू-पोछे का काम भी किया। साल 2014 में 'आप की अदालत' प्रोग्राम में रजत शर्मा के साथ बातचीत के दौरान स्मृति ईरानी ने अपने संघर्ष की कहानी बताई थी।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Smriti Irani (@smritiiraniofficial)

नौकरी के लिए सुनने पड़े थे ताने

स्मृति ईरानी ने बताया था कि उन्होंने न्यूजपेपर में 2 इंटरव्यू देखे और नौकरी के लिए निकल पड़ी। एक मैकडॉनल्ड का था और दूसरा जेट एयरवेज का। स्मृति ईरानी उन दिनों काफी पतली हुआ करती थी तो उन्हें लगा कि जेट एयरवेज की नौकरी उन्हें मिल जाएगी। वो इंटरव्यू देने गई। इस बारे में बात करते हुए स्मृति ने कहा था, जब मैं गई वहां तो लोगों ने कहा, 'शक्ल देखी है अपनी? न शक्ल ठीक है और न ही आपकी पर्सनैलिटी मैच होती है। हम आपको नौकरी नहीं दे सकते।'

बहन को मिली नौकरी लेकिन स्मृति को नहीं

अपने बारे में ये बातें सुनकर स्मृति ईरानी टूट गई। फिर यही नौकरी के लिए उनकी बहन ने ट्राई किया और उसे मिल गई। स्मृति ईरानी को इस बात से गहरा झटका लगा था कि उनकी छोटी बहन को नौकरी मिल गई लेकिन उन्हें नहीं। फिर उन्होंने मैकडॉनल्ड के लिए ट्राई किया लेकिन यहां भी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया। वहां भी जो नौकरियां और वेकंसी थीं, वो फुल हो गईं। इस बारे में बात करते हुए स्मृति ईरानी ने बताया था, 'साथ में मैकडॉनल्ड का इंटरव्यू था। मैं वहां गई और कहा, 'देखिए मैं पढ़ी-लिखी हूं। मैं अच्छा काम कर सकती हूं।' वो लोग बोले कि मैडम आप तो देर से आई हैं। सारी नौकरियां तो चली गईं, बस एक बची है और वह आपके लायक नहीं है।'

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Smriti Irani (@smritiiraniofficial)

मीका सिंह के गाने से बदली किस्मत

स्मृति ने बताया था कि वो एक नौकरी झाड़ू-पोछा की थी लेकिन उन्होंने की। उस वक्त उन्हें 1800 रुपए मिलते थे। स्मृति ईरानी की किस्मत तब बदली जब उन्होंने मिस इंडिया 1998 ब्यूटी पेजेंट में हिस्सा लिया। भले ही वो इसमें टॉप 9 में नहीं पहुंची लेकिन लोगों की नजरें उन पर पड़ गई। इसके बाद वो मीका सिंह के म्यूजिक वीडियो 'बोलियां' में दिखीं और छा गईं।

एकता कपूर के शो से हुई घर-घर में फेमस

इसके बाद स्मृति ईरानी ने कुछ टीवी सीरिल्स किए लेकिन एकता कपूर के शो 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी' में तुलसी का रोल निभाकर वो घर-घर में छा गई। इसी बीच किसी वजह से उनकी एकता कपूर के साथ लड़ाई हो गई और उन्होंने शो छोड़ दिया। हालांकि अब इन दोनों के बीच रिश्ता अच्छा है। टीवी इंडस्ट्री को अलविदा कहने के बाद वो राजनीति में आई और उन्होंने 2003 में बीजेपी ज्वाइन की।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Smriti Irani (@smritiiraniofficial)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Priya dhir

Related News

Recommended News

static