आंखों के नीचे से काले घेरे और झुर्रियां होगी दूर, आजमाकर देखें ये घरेलू नुस्खे

punjabkesari.in Tuesday, Feb 20, 2024 - 11:03 AM (IST)

देर रात तक जागने, नींद न पूरी होने के कारण, लंबे समय तक लैपटॉप या मोबाइल स्क्रीन देखने के कारण आंखों के नीचे काले घेरे और झुर्रियां आने लगती हैं। इसके कारण आंखों के आस-पास की स्किन पूरे चेहरे से अलग ही दिखती है। यह देखने में भी बिल्कुल अच्छे नहीं लगती और खूबसूरती पर भी इसका असर पड़ता है। इस समस्या से राहत पाने के लिए महिलाएं कई महंगे प्रोडक्ट्स भी इस्तेमाल करती हैं लेकिन आज आपको इस आर्टिकल के जरिए कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताते हैं जिनके जरिए आप समस्या से राहत पा सकते हैं। आइए जानते हैं। 

दही, कॉफी और हल्दी 

इन तीनों चीजों के जरिए आप आंखों के नीचे मौजूद डार्क सर्कल्स और झुर्रियां दूर कर सकते हैं। 

सामग्री 

दही - 1 चम्मच
हल्दी - 1 चुटकी
कॉफी पाउडर - 1 चुटकी 

PunjabKesari

कैसे करें इस्तेमाल? 

. एक चम्मच दही को सूती कपड़े में रखकर पानी निकाल लें। 
. फिर इसे एक कटोरी में निकाल लें। 
. अब इसमें हल्दी, कॉफी डालकर अच्छी तरह मिक्स करें। 
. जब क्रीमी टेक्सचर मिश्रण में आ जाए तो 5 मिनट के लिए प्रभावित जगह पर लगाएं। 
. सूखने के बाद त्वचा को साफ कर दें। 
. इसके बाद बादाम तेल से आंखों की मसाज करें। 

शहद और नींबू 

इन दोनों चीजों का मिश्रण भी समस्या से राहत पाने के लिए आप इस्तेमाल कर सकते हैं। 

सामग्री 

शहद - 1 चम्मच
नींबू का रस - 1 चम्मच 

कैसे करें इस्तेमाल?

. सबसे पहले एक कटोरी में 1 चम्मच शहद डालें। 
. फिर इसमें नींबू का रस डालकर मिक्स कर लें। 
. पेस्ट को 2-3 मिनट आंखों के नीचे लगाएं। 
. तय समय के बाद आंखें साफ पानी से साफ कर लें। 

ठंडा दूध 

ठंडा दूध भी समस्या से राहत दिलवाने में मदद करेगा। आंखों के आस-पास ठंडा दूध लगाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें। 10 मिनट के बाद गुनगुने पानी के साथ मुंह धोकर त्वचा साफ कर लें। ठंडा दूध एक नैचुरल क्लींजर होता है ऐसे में इसका इस्तेमाल करने से काले घेरे और झुर्रियां साफ होने लगेंगी। 

PunjabKesari

टमाटर और नींबू का रस 

टमाटर के रस में कुछ बूंदे नींबू की रस मिलाने से भी आंखों के नीचे से काले घेरे दूर होने लगेंगे। दोनों चीजों को मिलाकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें। तय समय बाद ठंडे पानी से चेहरा धोकर साफ कर लें। टमाटर में नैचुरल ब्लीचिंग एजेंट पाया जाता है ऐसे में यह डार्क सर्कल को कम करने में मदद करेगा। 

PunjabKesari
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

palak

Recommended News

Related News

static