सावन में नहीं खानी चाहिए ये चीजें, जानिए क्यों?

7/4/2020 5:17:57 PM

सावन का पावन महीना कल से शुरू हो जाएगा। इस महीने में सभी लोग शिव जी की कृपा पाने के लिए उनकी भक्ति में डूब जाते है। यह मानसून का समय होने पर इस दौरान खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। इस समय दौरान बहुत सी ऐसी चीजें है जिन्हें खाने से बचना चाहिए। साथ ही इन्हें खाने को लेकर धार्मिक व वैज्ञानिक दो अलग-अलग कारण माने जाते है। तो चलिए जानते है सावन में किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए और क्यों...

हरी पत्तेदार सब्जियां

सावन का महीना मानसून को साथ लेकर आता है। ऐसे में मानसून के मौसम में कीड़े सबसे ज्यादा पनपते है। साथ ही ये कीड़े हरी पत्तेदार सब्जियों पर चिपक जाते है। इसतरह इस मौसम में इनका सेवन करने से पेट और स्किन से जुड़ी बीमारियों के लगने का खतरा बढ़ता है। इसलिए इस दौरान इसे खाने से परहेज रखना चाहिए। 

nari

बैंगन

बैंगन को अशुद्ध सब्जी के तौर पर माना जाता है। इसलिए सावन के पवित्र महीने में इसे खाने से बचना चाहिए। इसके अलावा इस दौरान बारिश होने के कारण इसमें कीड़े पनपने लगते हैं। ऐसे में इसका सेवन करने से बीमार होने का खतरा बढ़ता है।

दूध और इससे बनी चीजें

सावन के शुभ महीने में दूध और डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करने से बचना चाहिए। मगर खासतौर पर दूध, दही से भगवान शिव का अभिषेक करना चाहिए। अगर दूध का सेवन करना भी हो तो उसे कच्चे की जगह अच्छे से उबाल कर पीना चाहिए।

nari

मसालेदार भोजन

भले ही मसालेदार भोजन खाने में अच्छा लगता है। मगर ज्यादा मसालों का इस्तेमाल करने से इसे पचाने में दिक्कते होती है। इसे पचाने में आंतों को ज्यादा काम करने से शरीर की एनर्जी कम होती है। 

कढ़ी

सावन के महीने में कढ़ी को खाने से परहेज रखना चाहिए। इसके सेवन से वात दोष बढ़ता है। ऐसे में दुबलापन, नींद की कमी, आवाज का भारी होना आदि सेहत संबंधी समस्याएं होने लगती है। 

 Punjabi Kadhi,nari

मांसाहारी खाना

हिंदु धर्म में इस महीने को बहुत महत्ता दी जाती है। इसलिए सावन के महीने में इसे खाने से दूरी बनानी चाहिए। इसके अलावा मानसून में खासतौर मछली का सेवन करने से बचना चाहिए। क्योंकि इस समय दौरान मछलियां अंडे देती है जो कि इंसान के लिए नुकसानदायक होते है। 
 


Edited By

neetu

Related News