महिलाओं में PCOS की समस्या को इन घरेलू तरीकों से करें दूर

Monday, March 5, 2018 9:41 AM
महिलाओं में PCOS की समस्या को इन घरेलू तरीकों से करें दूर

बदलते लाइफस्टाइल के कारण महिलाओं में कई तरह की शारीरिक समस्याएं देखने को मिलती हैं। इन्हीं में से एक है PCOS जिसे पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम कहते हैं। 70 प्तिशत महिलाओं में दिखाई देने वाली यह समस्या महिलाओं में तनाव और गलत खान-पान के कारण होती है। इसके कारण महिलाओं को अनियमित पीरियड्स और प्रैग्नेंसी में आने वाली परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसके कारण महिलाओं में पेट का कैंसर और ओवरी में अल्सर की बीमारी का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में इस बीमारी के लक्षण पहचान कर इलाज करना बहुत जरूरी है। दवाइयों के साथ-साथ आप इस समस्या को कुछ घरेलू तरीकों से भी दूर कर सकते है। तो चलिे जानते है इस बीमारी के लक्षण, कारण और घरेलू उपचार।
 

PCOS के कारण
हार्मोन असंतुलित
तनाव, टेंशन
समय पर न खाना
रात को देर से सोना
बहुत अधिक व्यायाम
संबंध बनाते सावधानी न बरतना
शराब या धुम्रपान
डायबिटीज या हाई ब्लड प्रेशर
जंक फूड या कोल्ड ड्रिंक्स का सेवन

PunjabKesari

PCOS के लक्षण 
वजन बढ़ना
कब्ज, एसिडिटी
सिर दर्द, कमजोरी
चेहरे पर मुंहासे
ऑयली स्किन
बालों का झड़ना, ड्रैडंफ
अनियमित पीरियड्स
चेहरे और शरीर पर अनचाहे बाल
 

PCOS के घरेलू नुस्खे
1. मैग्नीशियम युक्त भोजन
मैग्नीशियम हड्डियों, मांसपेशियों और दिमाग को मजबूत बनाकर पीसीओ के खतरे को कम करता है। इसलिए अपने भोजन में ज्यादा से ज्यादा मैग्नीशियम युक्त चीजें जैसे नट्स, सोयाबीन, मछली, अलसी के बीच, कद्दू के बीच, डार्क चॉकलेट, केले और खजूर को शामिल करें।

PunjabKesari

2. दालचीनी पाउडर
दालचीनी का सेवन शरीर में इंसुलिन की मात्रा को बढ़ने से रोकता है। 1 चम्मच दालचीनी पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर रोजाना पीने से पीसीओस की समस्या दूर हो जाती है।

PunjabKesari

3. अलसी के बीज
अलसी के बीज को पीसकर गर्म पानी में मिलाकर रोज पीएं। इसमें मौजूद औमेगा 3 फैटी एसिड, फाइबर और मैग्नीशियम से भरपूर अलसी के बीजों का सेवन इस समस्या को दूर करने में मदद करता है।

PunjabKesari

4. पुदीने की चाय
कॉफी या चाय का सेवन इस समस्या को और भी बढ़ा देता है। इसकी बजाए आप दिन में 2 बार पुदीने की चाय का सेवन करें। इससे आपकी पीसीओस में पेट दर्द, कब्ज और एसिडिटी से राहत मिलती है।

PunjabKesari

5. सेब का सिरका
इसका सेवन शरीर में शर्करा को नियंत्रित करके इंसुलिन के उत्पादन से दूर रखता है। इससे आपका वजन कम होने के साथ-साथ पीसीओस का खतरा भी कम हो जाता है।

PunjabKesari

6. मेथी के बीज
मेथी की बीज को आठ घंटे के लिए पानी में भिगो दें। इसके बाद इसे पीस कर इसमें 1 चम्मच शहद मिलाएं। दिन में 2 बार नियमित रूप से इसका सेवन करने से आपको इस समस्या में सुधार दिखने लगेगा।

PunjabKesari

इनसे करें परहेज
1. पीसीओस के खतरे से बचने के लिए अपनी डाइट में सुधार करें। मांस, नमक युक्त भोजन, मेवे, प्रोसेस्ड सब्जियाँ, मांस और सॉस का सीमीत मात्रा तक सेवन करें।
 

2. प्रोसेस्ड आहार जैसे बर्गर, पिज्जा, मैग्गी आदि चीजों का सेवन कम करें।

PunjabKesari

3. संतृप्त वसा वाली चीजें मीट्स, पनीर, खट्टा दही और तली हुई चीजों का भी कम से कम सेवन करें।
 

4. शराब और धुम्रपान का सेवन भी इस खतरे को बढ़ा देता है। इसलिए महिलाओं को इन चीजों से दूर रहना चाहिए।


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन