तुलसी विवाह में शामिल नहीं हो पा रहे तो घर में ही उसे दुल्हन बनाएं

11/25/2020 10:10:34 AM

तुलसी विवाह एकादशी और द्वादशी दोनों तिथियों में किया जाता है इसलिए कुछ लोग आज तो कुछ कल तुलसी विवाह संपन्न करेंगे। मान्यता है कि तुलसी विवाह करने से कन्यादान जितना पुण्य मिलता है इसलिए जिस घर में बेटियां नहीं है उन्हें तुलसी विवाह जरूर करना चाहिए। तुलसी विवाह का आयोजन हिंदू रीति-रिवाजों के हिसाब से ही किया जाता है।

PunjabKesari

मान्यता है कि तुलसी विवाह से वातावरण शुद्ध, मंगलमय व सकारात्मक होता है। अगर आप भी तुलसी विवाह करने जा रहे हैं तो यहां हम आपको तुलसी डैकोरेशन की तरह सजाने के कुछ आडियाज देंगे, जिससे आपका काम कुछ आसान हो जाएगा।

PunjabKesari

लेकिन अगर आप किसी वजह से तुलसी विवाह में शामिल नहीं हो पा रहे हैं तो घर पर ही तुलसी की दुल्हन की तरह सजा सकते हैं।

PunjabKesari

चलिए आपको दिखाते हैं तुलसी को दुल्हन की तरह सजाने के कुछ यूनिक आइडियाज...

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari

PunjabKesari


Anjali Rajput

Recommended News