देश का मान बढ़ा रहीं बेटियां! गणतंत्र दिवस परेड का हिस्सा बनेगी बिहार की बेटी भावना कंठ

1/20/2021 12:28:38 PM

आज लड़कियां हर एक क्षेत्र में देश का मान बढ़ा रही हैं। कोई भी ऐसा काम नहीं है जो महिलाएं न कर पाएं। चाहे वह उड़ान भरने की बात हो या फिर वह खुद को सशक्त करने की बात हो। वहीं अब आने वाली 26 जनवरी को भी देश की बेटियां भारत का मान बढ़ाने का कोई मौका नहीं छोड़ेंगी। दरअसल महिला फायटर पायलट भावना कंठ 26 जनवरी यानि गणतंत्र दिवस के मौके पर परेड में शामिल होंगी और एक नया इतिहास रचेंगी। 

PunjabKesari

परेड में शामिल होने वाली पहली महिला फायटर पायलट होंगी भावना 

आपको बता दें कि भावना कंठ पहली महिला सेनानी पायलट है और वह आने वाले गणतंत्र दिवस की परेड में भी शामिल होंगी। यह न सिर्फ भावना के लिए बल्कि पूरे देश के लिए गर्व का पल है। आपको बता दें कि भावना 26 जनवरी को भारतीय वायुसेना की तरफ से निकाली जाने वाली झांकी का हिस्सा होंगी जिसकी थीम मेक इन इंडिया है।

इन चीजों का प्रदर्शन करेगी भारतीय वायुसेना 

आपको बता दें कि इस दौरान भारतीय वायुसेना एलसीए तेजस, लाइट कॉमबैट हेलिकॉप्टर, रोहिणी रडार, आकाश मिसाइल और सुखोई 30एमकेआई का प्रदर्शन करेगी। साथ ही विंटेज विमान डकोटा का भी प्रदर्शन किया जाएगा। और इसका हिस्सा बनेंगी भावना कंठ। 

बचपन में टीवी पर देखती थीं परेड

26 जनवरी की इस परेड का हिस्सा बनकर भावना बेहद खुश है। इस पर खुशी जाहिर करते हुए भावना ने कहा कि वह बचपन से ही टीवी पर गणतंत्र दिवस पर होने वाली परेड को देखती आई हैं और इस बार तो उन्हें खुद इस परेड में हिस्सा लेने का मौका मिल रहा है जिसके लिए वह बेहद खुश हैं। परेड में शामिल होना भावना के लिए तो गर्व की बात है ही साथ ही भारत के लिए भी यह मान की बात है। भावना ने यह भी कहा कि वह गणतंत्र दिवस परेड में राफेल और सुखोई के साथ-साथ बाकी विमान भी उड़ाना चाहती हैं। 

PunjabKesari

अब आपको बताते हैं कि आखिर कौन है भावना कंठ ?

भावना कंठ मूलरूप से बिहार के दरभंगा जिले की रहने वाली हैं। उनके पिता इंडियन ऑयल कंपनी में इंजीनियर हैं। भावना ने बरौनी रिफाइनरी डीएवी पब्लिक स्कूल पढ़ाई की और उन्होंने बेंगलुरु में बीएमएस कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग से मेडिकल इलेक्ट्रॉनिक्स में अपनी इंजीनियरिंग पूरी की। आपको बता दें कि  साल 2018 में एयरफोर्स की पहली महिला फाइटर पायलट्स के रूप में तैनात हुईं भावना कंठ ने 2019 में ही अपनी ट्रेनिंग का एक चरण पूरा कर लिया था। जिसके बाद वो दिन के वक्त युद्ध करने के लिए तैयार हो गई थीं। 

भावना के नाम एक उपलब्धि यह भी 

भावना गणतंत्र दिवस की परेड में तो हिस्सा लेने जा ही रही हैं इसके साथ ही भावना के नाम एक और उपलब्धि भी है जो यह है कि भावना युद्ध मिशन में दिन के वक्त फाइटर जेट्स उड़ाने की योग्यता हासिल करने वाली वायुसेना की पहली महिला फाइटर पायलट हैं। ये योग्यता उन्होंने मई 2019 में हासिल की थी। 

महिला फाइटर पायलट के पहले बैच में थी भावना 

आपको बता दें कि 2015 में भारत सरकार ने वायुसेना की फाइटर स्ट्रीम में महिला पायलट्स की भर्ती का फैसला लिया था फिर इसके बाद जुलाई 2016 में 3 महिलाओं ने वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर्स के तौर पर जॉइनिंग क। मीडिया रिपोर्टस की मानें तो ये महिला फाइटर पायलट का पहला बैच था और इस बैच में भावना कंठ के साथ अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह शामिल थीं। 

PunjabKesari

मिल चुका है नारी शक्ति पुरस्कार

आपको बता दें कि भावना को पिछले साल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किया था। वहीं भावना इस वक्त राजस्थान के एक एयरबेस में पोस्टेड हैं और वहां वह मिग-21 बायसन फाइटर प्लेन उड़ाती हैं। 

सच में भावना आज देश की बेटियों के लिए एक मिसाल है। 


Janvi Bithal

Recommended News