11 दिन बाद कोरोना मरीज से संक्रमण का खतरा कम: रिसर्च

5/25/2020 2:36:19 PM

दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमणित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही हैं जो साइंटिस्ट के लिए चिंता का विषय बन चुका है। हर रोज कोई न कोई नया केस या फिर कोई नया लक्षण सामने आ जाता हैं, वहीं कभी इसके इलाज को लेकर तरह-तरह के दावे किए जाते है, जबकि अभी तक इससे बचाव के लिए कोई वैक्सीन नहीं बन पाई है। इतना ही नहीं, इस महामारी के स्थिति बिगड़ते देख लगातार तरह-तरह के अध्ययन भी किए जा रहे हैं, ऐसा ही एक अध्ययन हाल ही में किया जिसमें सामने आया कि कोरोना के मरीज 11 दिन बाद संक्रामक नहीं रहते हैं फिर चाहे उनका टेस्ट पॉजिटिव ही क्यों न हो? चलिए जानते कोरोना को लेकर क्या कहती है यह नई रिसर्च।

11 दिन बाद मरीज से नहीं फैलता वायरस

सिंगापुर के नेशनल सेंटर फॉर इंफेक्शियस डिजीज एंड द एकेडमी ऑफ मेडिसिन द्वारा की गई रिसर्च में सामने आया कि किसी भी पॉजिटिव टेस्ट को संक्रामक या व्यवहार्य वायरस के बराबर नहीं माना जा सकता है। अध्ययन में कहा गया कि इस वायरस से संक्रमक व्यक्ति से 11 दिन बाद औरों में वायरस फैलाने का खतरा ना के बराबर हो जाता है। 

The virus hunters who search bat caves to predict the next ...

अलग-अलग राज्यों से कोरोना मरीजों पर किया गया अध्ययन 

शोधकर्ताओं ने अलग-अलग राज्यों में कोरोना के 73 मरीजों पर यह अध्ययन किया है जिससे प्राप्त हुए निष्कर्षों से देश की मरीजों को डिस्चार्ज करने वाली पोलिसी में कुछ संशोधन किए जा सकते हैं। हालांकि, फिलहाल तो देश में मरीजों को छुट्टी उनका कोरोना टेस्ट नेगेटिव आने पर दी जा रही हैं। बता दें कि शोध में यह भी सामने आया कि मरीज में लक्षण उभरने के सात दिन तक तो वायरस की संख्या बढ़ने और हवा में उसका प्रसार होने की आशंका रहती है, लेकिन आठवें से दसवें दिन के भीतर यह कमजोर पड़ने लगती है और 11वां दिन बीतते-बीतते पूरी तरह नष्ट हो जाती है।

सिंगापुर में मरीजों को छुट्टी की योजना अलग                          

स्ट्रेट्स टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, कोविड -19 से जूझ रहे रोगियों के प्रबंधन को लेकर सिंगापुर की रणनीति नवीनतम स्थानीय और अंतर्राष्ट्रीय नैदानिक वैज्ञानिक साक्ष्य द्वारा निर्देशित है। सिंगापुर का स्वास्थ्य मंत्रालय इस बात को तय करेगा कि क्या नवीनतम साक्ष्य को उसके रोगी नैदानिक प्रबंधन योजना में शामिल किया जा सकता है। जिसके बाद ही इस अध्ययन के निष्कर्षों को किसी भी योजना में शामिल किया जाएगा। बता दें कि सिंगापुर में फिलहाल किसी संक्रमित को 24 घंटे के अंतराल में दो स्वैब जांच के नेगेटिव आने के बाद अस्पताल से छुट्टी देने का नियम है। 

What is Coronavirus | Coronavirus causes, prevention, symptoms and ...

सिंगापुर में अबतक के कुल मामले  

अब तक सिंगापुर में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 31,068 है जिसमें से 13,882 या लगभग 45% को अस्पतालों और सामुदायिक सुविधाओं से छुट्टी मिल चुकी है। वहीं शनिवार को सिंगापुर में 642 नए कोरोना के मामलों की सूचना मिली थी। 

2 जून से खुलेंगे सिंगापुर में प्री-स्कूल

बताया जा रहा है कि सिंगापुर में 2 जून से प्री-स्कूलों को फिर से खोलने की तैयारी शुरू हो चुकी है इसलिए कोरोना की रोकथाम के लिए सिंगापुर सरकार प्री-स्कूल स्टाफ की सक्रिय रूप से जांच कर रही है। 


Sunita Rajput

Related News