हैवानियत की हदें पार! 90 साल की बुजुर्ग के साथ पहले किया दुष्कर्म और फिर बेहरहमी से की पिटाई

punjabkesari.in Friday, Sep 11, 2020 - 05:04 PM (IST)

भले ही देश में महिलाओं की स्थिति में सुधार हुआ हो, भले ही लड़कियों को हाई स्कूली शिक्षा दिलवाई जा रही हो लेकिन आज भी महिलाओं के साथ होने वाले अपराध कम नहीं हुए हैं। आए दिन महिलाओं के साथ होने वाली घरेलू हिंसा, बलात्कार, सड़कों पर छेड़खानी, एसिड अटैक जैसी घटनाएं दिल दहला जाती हैं। सिर्फ मध्य उम्र की महिलाएं, युवा लड़कियां ही नहीं बल्कि छोटी बच्चियां भी दरिंदो की हैवानियत का शिकार हो चुकी हैं। यही नहीं, कुछ दरिंदे तो बुजुर्ग महिलाओं को भी नहीं छोड़ते।

बुजुर्ग महिला के साथ हुआ दुष्कर्म

हाल ही में दिल्ली के एक गांव में 90 साल की बुजुर्ग महिला के साथ रेप की खबर सामने आई है। खबरों के मुताबिक, बुजुर्ग महिला गेट के पास खड़ी होकर दूध वाले का इंतजार कर रही थी कि तभी एक अजनबी व्यक्ति ने महिला को कहा कि वो उसे दूधवाले के पास ले जाएगा लेकिन वह उसे रेवला खानपुर फार्म लेकर गया और जबरदस्ती करने लगा।

PunjabKesari

जबरदस्ती के साथ की मार-पीट

इतना ही नहीं, जब महिला ने कहा कि मैं तुम्हारी दादी की उम्र की हूं तो वह अपराधी नहीं रुका। आरोपी की हैवानियत सिर्फ दुष्कर्म करने तक ही नहीं रूकी बल्कि महिला के विरोध करने पर उसे मार-पीट शुरू कर दी। जब कुछ गांव वालों ने बुजुर्ग महिला की आवाज सुनी तो वह मदद के लिए आगे।

PunjabKesari

गांव वालों ने आकर की मदद

उसके बाद गांव वालों ने आरोपी को पकड़ पुलिस के हवाले किया और महिला को हॉस्पिटल पहुंचाया। पुलिस ने IPC धाराओं के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है। दिल्ली रेवला खानपुर गांव में रहने वाले आरोपी की पहचान सोनू के नाम से की गई है। खबरों के अनुसार, महिलाओं को कई बाहरी और अंदरूनी चोटें भी आईं है।

स्वाति मालीवाल ने जाहिर किया गुस्सा

घटना के बाद अस्पताल में DCW प्रमुख स्वाति मालीवाल ने सर्वाइवर से मुलाकात की और आरोपी के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने को कहा। यही नहीं, मालीवाल ने महिलाओं की सुरक्षा पर कई सवाल भी उठाएं। उन्होंने कहा कि आज 90 साल की बुजुर्ग से लेकर 6 महीने की बच्ची तक कोई सुरक्षित नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया पर गुस्सा जाहिर करते हुए लिखा, 'दो बार अनशन किया, आंदोलन किए, लाठियां खाई। अपने लिए कुछ नही मांग रही थी। बस यही मांगा की इस देश में ऐसे कानून बनाओ कि बालात्कार जैसे गुनाह के बारे में सोचने वाले दरिंदो की रूह कांपे। जो लोग आज अनदेखा कर रहे हैं, कल वो किसी की भी 6 महीने की बच्ची या 90 साल की दादी हो सकती है।'

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anjali Rajput

Related News

Recommended News

static