विश्व कैंसर दिवस: लगातार बढ़ रहा है कैंसर का खतरा, जानिए कारण

Sunday, February 4, 2018 1:41 PM
विश्व कैंसर दिवस: लगातार बढ़ रहा है कैंसर का खतरा, जानिए कारण

कैंसर एक एेसी बीमारी हैं जिसका नाम सुनते ही लोग डर जाते हैं। दिनों-दिन कैंसर से पीड़ित लोगों की सख्या बढ़ रही है। 4 फरवरी को विश्व कैंसर दिवस के रूप में मनाए जाने वाले इस दिन में लोगों को कैंसर के खतरे से सावधान किया जाता है। इस दिवस का मकसद लोगों में ज्यादा से ज्यादा कैंसर के खतरे के प्रति जागरूकता फैलना है। एक शोध के अनुसार ज्यादातर लोगों को इस बीमारी के लक्षण न पता होने के कारण वो इससे मौत का शिकार हो जाते है। इसके अलावा इस शोध में यह भी बताया गया है कि पुरूषों के मुकाबले महिलाएं इसकी चपेट में अधिक आ रही हैं।

PunjabKesari

हर साल बढ़ रहे हैं कैंसर के मरीज
गलत और अनियमित खान-पान के कारण भारत में हर साल कैंसर के मरीज बढ़ रहें है। आज देश में करीब 7.5 प्रतिशत लोग इस बीमारी से पीड़ित है। इस संख्या में 5.5 प्रतिशत संख्या महिलाओं की है। हर साल कैंसर के 12.5 लाख मामले सामने आते हैं, जिसमें सात लाख महिलाएं इस बीमारी का शिकार होती है। नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के अनुसार स्तन, गर्भाशय ग्रीवा और मुंह का कैंसर सबसे अधिक फैल रहा है। हर साल स्तन या गर्भाशय ग्रीवा कैंसर के कारण करीब 3.5 लाख महिलाओं की मौत हो जाती है। इस समय 1 करोड़ कैंसर रोगियों की देखभाल के लिए सिर्फ 2000 कैंसर स्पेशलिस्ट हैं, जोकि गर्भाशय, ओवरी और योनि कैंसर का इलाज करते है। एक्सपर्ट के अनुसार अगर दैनिक जीवन में थोड़ी-सी सावधानी इस्तेमाल करके आप इस बीमारी के खतरे को कम कर सकते हैं।

PunjabKesari

कैंसर का कारण
मोटापा
तम्बाकू का अधिक सेवन
आनुवांशिकता
शराब का सेवन
इंफेक्शन के कारण
जेनेटिक कारण

PunjabKesari

इस तरह करें कैंसर से बचाव
तंबाकू का सेवन ना करना
एल्कोहल से परहेज
रोगुलर स्‍तन कैंसर की जांच
महिलाओं में पेप स्मियर जांच  
मांसाहारी भोजन का सेवन कम करें
वायरस और बैक्टीरिया से करें बचाव
स्वस्थ आहार लेना


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन